पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Wonderful Election Symbol, Someone Got The Chair Before The Victory, The Lantern Became The Companion, The Umbrella table Lamp Also The Support Of The Candidates

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पंचायत चुनाव:अजब गजब चुनाव चिन्ह, किसी काे जीत से पहले ही मिली कुर्सी ताे कहीं लालटेन बनी साथी, छाता-टेबल लैंप भी प्रत्याशियों का सहारा

शिमला13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • पंचायतों में तीन दिन बाद होगा पहले चरण का मतदान, उम्मीदवार नहीं छोड़ना चाहते कोई कसर

पंचायतीराज चुनावों में अबकी बार कई प्रत्याशी अपने चुनाव चिन्हों पर ही वोट मांग रह हैं। प्रत्याशियों को भी चुनाव चिन्ह अजब-गजब के मिले हैं। किसी को जीत से पहले ही कुर्सी मिल गई तो कहीं लालटेन साथी बना है। कई प्रत्याशियों का सहारा छाता-टेबल लैंब जैसे चुनाव चिन्ह हैं। जिनके माध्यम से अनोखे ढंग से चुनाव प्रचार हो रहा है। पूरे चुनावों को देखकर ऐसा लग रहा है कि कई जगह प्रत्याशी अपने नाम का नहीं बल्कि चुनाव चिन्ह को आगे रख कर वोट मांग रहे हैं।

कई प्रत्याशियों ने चुनाव चिन्हों के अपने पोस्टर बनाए हैं जिनके माध्यम से लोगों से जोरों-शोरों से वोट मांगे जा रहे हैं। पंचायतीराज संस्थाओं के लिए होने वाले चुनाव को लेकर इन दिनोंं चुनावी प्रचार जोरों पर चला हुआ है। प्रत्याशी घर-घर जाकर वोट मांग रहे हैं। कई जगह प्रत्याशियों ने पोस्टर भी चस्पा रखे हैं तो बड़ी संख्या में सोशल मीडिया के माध्यम से भी चुनाव प्रचार किया जा रहा है। प्रत्याशी अपने लिए वोट हासिल करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए वे प्रचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाह रहे।

नाम नहीं चुनाव चिह्न पर जोर

पंचायती राज चुनावों के लिए प्रत्याशियों को विभिन्न चुनाव चिन्ह आबंटित किए गए हैं। इनमें से कई चुनाव चिन्ह ऐसे हैं, जो कि प्रत्याशी के नामों पर भी भारी पड़ रहे हैं। चुनावों में किस तरह से इन चिन्हों के साथ प्रचार किया जा रहा है, इसके कुछ उदाहरण हैं। पोस्टर और सोशल मीडिया पर पोस्ट में लिखा है, लालटेन ही आपका साथी, छाता हरदम साथ रखें, अपने टेबल लैंप काे न भूलें, पांच साल कुर्सी रहेगी अापके साथ, आदि-आदि।

युवा वर्ग ही कर रहा अनोखे ढंग से प्रचार

पंचायत चुनाव में अनोखे ढंग से प्रचार वालों में अधिकतर युवा ही है। युवा प्रत्याशी सोशल मीडिया पर इस तरह का प्रचार कर रहे हैं। सोशल मीडिया अकाउंट भी ज्यादातर युवा प्रत्याशी ही चला रहे हैं जिनमें इस तरह के प्रचार का रूप देखा जा सकता है। वहीं कई लोगों ने पोस्टर और बैनरों में भी इस तरह के नारे लिखे हुए हैं।

अधिकतर के पास नहीं कोई विजन

ग्रामीण इलाकों में अधिकतर विकास कार्य पंचायतों के माध्यम से ही होने लगे हैं। कई योजनाएं सीधे पंचायतों के माध्यम से कार्यान्वित की जा रही हैं। मगर कई प्रत्याशियों को इन योजनाओं से कोई सरोकार नहीं है और न ही उनके पास कोई विजन है। ऐसे प्रत्याशी किसी न किसी तरह वोटरों को प्रभावित करना चाह रहे हैं। भले ऐसे प्रत्याशियों के पास कोई विजन न हो, मगर इनके पास लोक लुभावने चिन्ह और इनसे जुड़े नारे हैं।

पंचायतों में चरम पर है चुनाव प्रचार

पंचायत चुनावों के लिए आजकल प्रचार चरम पर पहुंच गया है। प्रत्याशी दिन-रात एक कर प्रचार में जुटे हैं। पंचायतों के चुनाव 17 जनवरी से शुरू है तो ऐसे में प्रचार के लिए चंद ही दिन रह गए हैं। ऐसे में प्रत्याशी कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाह रहे। प्रबुद्ध मतदाता भी प्रत्याशियों को वोट देने का भरोसा दे रहे हैं, मगर यह तो चुनाव परिणाम आने पर ही पता चल पाएगा कि वास्तव में किसको लोगों ने पसंद किया है और किस पर भरोसा जताया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser