अनदेखी:1.5 करोड़ की लागत से लगाई गई ठोस कचरा प्रबंधन मशीन फांक रही धूल

रिकांगपिओ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दो वर्ष पूर्व किन्नौर प्रशासन द्वारा किन्नौर जिले के पोवारी नामक स्थान पर 1 करोड़ 5 लाख रुपए की लागत से ठोस कचरा प्रबंधन मशीन स्थापित की गई ताकि रिकांगपिओ क्षेत्र से निकलने वाले कचरे का सही ढंग से निष्पादन किया जा सके। इस मशीन में लाखों की लागत से कम्पोजर मशीन स्थापित कर गई है। जिस की क्षमता एक टन प्रतिदिन है। इसी तरह इंसिनेटर 100 किलो प्रति घण्टे की हिसाब से काम करता है।

इस मशीनों के द्वारा कचरे से खाद बनाए जाने का विकल्प है। बीते कई दिनों से इस मशीन का कुछ हिस्सा सही ढंग से काम नहीं कर पाने के कारण इन दिनों पोवारी प्लांट पर कूड़े का ढेर पड़ा हुआ है और मशीन धूल फांक रही है। कुछ दिन पूर्व तो प्लांट पर कचरे का ढेर अधिक हो जाने के कारण साडा के कामगारों द्वारा कूड़े को सड़क किनारे फेंक कर उस मे आग लगा कर कूड़े का निष्पादन करने का भी प्रयास चलता रहा , जो कि स्वच्छ भारत अभियान के लिए शर्मनाक वाकय रहा। आज भी प्लांट पर कूड़े का ढेर देखा जा सकता है।

खबरें और भी हैं...