पांवटा साहिब पहुंचे राकेश टिकैत:बोले- अग्निपथ के खिलाफ आंदोलन छेड़ेंगे, शुरुआत 24 जून से, सभी संगठनों से साथ आने की अपील

पांवटा साहिब3 महीने पहले
गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब के मीटिंग हॉल में प्रेसवार्ता करते भाकियू नेता राकेश टिकैत। - Dainik Bhaskar
गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब के मीटिंग हॉल में प्रेसवार्ता करते भाकियू नेता राकेश टिकैत।

भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत ने अग्निपथ योजना पर कहा कि इसके विरोध में आंदोलन शुरू किया जाएगा। इसकी तैयारी 24 जून से शुरू होगी। केंद्र सरकार रोजाना अपना स्टैंड बदलती है। सुबह कुछ और शाम को कुछ कहती है। अग्निपथ पर भी सरकार का यही हाल है इसलिए उसकी किसी बात पर यकीन नहीं किया जा सकता।

टिकैत ने कहा कि केंद्र सरकार को स्पष्ट कर देना चाहिए कि आखिर बेरोजगारों को किस तरह की नियुक्ति दी जाएगी? उन्होंने सभी किसान नेता और संगठनों से मिलकर इस आंदोलन में आगे बढ़ाने का आह्वान किया।

किसान आंदोलन की सफलता के बाद राकेश टिकैत देश के प्रमुख गुरुद्वारों में मत्था टेक रहे हैं। इसी क्रम में वह मंगलवार को गुरुद्वारा पांवटा साहिब पहुंचे। यहां मत्था टेकने के बाद उन्होंने लंगर ग्रहण किया। गुरुद्वारे के मीटिंग हाल में पत्रकारों से बातचीत में टिकैत ने Z PLUS सिक्योरिटी की मांग संबंधी सवाल पर कहा कि उन्होंने इसकी मांग नहीं की। उनकी सुरक्षा का जिम्मा पुलिस-प्रशासन और सरकार का है।

MSP के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि इसकी मांग जारी रहेगी और किसान संघर्ष करता रहेगा। पंजाब में पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि पंजाब में बिगड़ते हालात के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार है। केंद्र सरकार की वजह से ही पंजाब में गड़बड़ी हो रही है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा अपराधियों के घरों पर बुलडोजर चलाने संबंधी सवाल पर टिकैत ने कहा कि यह सब रुकना चाहिए। किसी का घर तोड़ना ठीक नहीं है। हालांकि इसमें भी भेदभाव हो रहा है।

किसान नेता ने हिमाचल सरकार को पर्यटन की तरफ बढ़ावा देने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि हिमाचल एक शांत राज्य है। इससे गरीबों और बेरोजगारों को रोजगार मिल सकता है। इस मौके पर हिमाचल प्रदेश भारतीय किसान यूनियन अध्यक्ष अनिंदर सिंह नॉटी के अलावा कई किसान नेता मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...