नशा मुक्ति केंद्र में मौत का मामला:गोंदपुर बनेहड़ा में शव सड़क पर रख लगाया जाम; SDM ने समझाकर खुलवाया

ऊना19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोंदपुर बनेहड़ा में शव सड़क पर रखकर विरोध जताते परिजन। - Dainik Bhaskar
गोंदपुर बनेहड़ा में शव सड़क पर रखकर विरोध जताते परिजन।

नशा निवारण केंद्र में संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने शनिवार शाम सड़क पर शव रखकर जाम लगाया। परिजनों ने ग्रामीणों के साथ गोंदपुर बनेहड़ा में मुबारकपुर दौलतपुर चौक पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी नशा मुक्ति केंद्र के संचालक की गिरफ्तारी की मांग कर रहे। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने ग्रामीमों को समझाकर शांत कराया और जाम खुलवाया।

मुबारिकपुर दौलतपुर चौक सड़क पर इकट्ठा हुए परिजनों ने बताया कि मौत के दूसरे दिन भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इसी के विरोध में जाम लगाया। जाम की सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। उसके बाद एसडीएम गगरेट विनय मोदी और अंब डीएसपी इलमा अफरोज मौके पर पहुंचे। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने इसके बावजूद सड़क से जाम नहीं हटाया। लोग नशा मुक्ति केंद्र की गिरफ्तारी होने के बाद ही सड़क जाम खोलने पर अड़े रहे। अफसरों ने प्रदर्शन कर रहे परिजनों और लोगों को समझाकर जाम खुलवाया।

गौरतलब है कि वीरवार रात लोअर बढ़ेडा के नशा मुक्ति केंद्र में युवक अमित कुमार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। आधी रात को संचालकों ने उसे दिल का दौरा पड़ने की सूचना परिजनों को दी। संचालक शुक्रवार तड़के अमित का शव उसके घर गोंदपुर बनेहड़ा छोड़कर चले गए। सूचना मिलने पर हरोली पुलिस ने अमित के शव को कब्जे में लिया और मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने शुक्रवार शाम केंद्र संचालक राहुल के खिलाफ मामला दर्ज किया।

पुलिस ने अमित का शव पोस्टमार्टम के लिए टांडा मेडिकल कॉलेज भेजा। अभी तक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं आई है। उधर, गगरेट के एसडीएम विनय मोदी ने कहा कि पुलिस आरोपियों को डिटेन कर रही है। केंद्र के संचालक से पूछताछ हो रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अगली कार्रवाई होगी।