हेमंत सोरेन बोले:विराेधियों के साजिश रचने से सरकार हिलने-डुलने वाली नहीं

जमशेदपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्र सरकार  और भाजपा पर जमकर साधा निशाना - Dainik Bhaskar
केंद्र सरकार और भाजपा पर जमकर साधा निशाना

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि केंद्र सरकार राजनीतिक दुश्मन की तरह सत्ता काे हिलाने-डुलाने की साजिश रच रही है। अभी राजनीतिक हालात में ऐसा आंधी-तूफान मचा है कि सत्ता के भूखे लाेग बाजार में घूम रहे हैं। सरकार गिराने के लिए राेज नई-नई साजिश रची जा रही है। कभी हिंदू-मुस्लिम, आदिवासी-गैर आदिवासी, आदिवासी-महताे के बीच लड़ाई लगाकर सरकार काे हिलाने-डुलाने का प्रयास किया जा रहा है।

कई अन्य कुकृत्य रचे जा रहे हैं, ताकि वे लाेग झारखंड में सत्ता में आ सकें। लेकिन हम सत्ता के भूखे नहीं हैं। हमारी नीयत और निष्ठा में कमी नहीं है। तभी ताे ऐसे लाेगाें के मंसूबे सफल नहीं हाे पा रहे हैं। आगे भी सत्ता के लाेभी सरकार काे हिला नहीं पाएंगे। हमें राजनीतिक ताकत दिखाने का माैका मिले, ताे दिखाएंगे और दाेबारा ऐसी ताकत काे शासन में नहीं आने देंगे।

सीएम झारखंड आंदोलन के प्रमुख नेता निर्मल महताे की पुण्यतिथि पर कदमा उलियान मैदान में आयाेजित एक जनसभा काे संबोधित कर रहे थे। जनसभा में मंत्री चंपई साेरेन, जाेबा मांझी, बन्ना गुप्ता, विधायक संजीव सरदार, मंगल कालिंदी, रामदास साेरेन और सविता महताे भी माैजूद थे।

सीएनटी-एसपीटी जमीन पर सरकार देगी लाेन

सीएम ने कहा कि बैंक सीएनटी और एसपीटी भूमि का हवाला देकर लाेन नहीं देते हैं। मूलवासियाें और आदिवासियाें काे इस झंझट से छूटकारा दिलाने के लिए वैसे लाेगाें काे सरकार लाेन देगी ताकि वे स्वराेजार से जुड़ें। सरकार से लाेन लेकर ग्रामीण क्षेत्र में माेटर पंप चला सकते हैं, सिलाई सेंटर में सिलाई-कढ़ाई का काम कर सकते हैं या पेट्राेल पंप खाेल सकते हैं। इसके लिए सरकार सहायता राशि उपलब्ध कराएगी। गरीबाें के लिए उनकी सरकार कई याेजनाएं चला रही है।

सभी विधवाओं काे विधवा पेंशन और जिन्हें पति ने छाेड़ दिया है, उन महिलाओं काे भी पेंशन दे रही है। यह देश का पहला राज्य है, जाे पति के छाेड़ने पर महिलाओं काें पेंशन दे रही है। उन्हाेंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उसके पास गरीबाें काे पैसा और पेंशन देने के लिए राशि नहीं है, लेकिन पूंजीपतियाें काे लाेन देने और लाेन माफ करने के लिए पैसा है। उनकी सरकार 15 लाख लाेगाें काे राशन दे रही है।

सुखाड़ से निबटने के लिए बनेगी योजना
मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन ने कहा कि इस साल बारिश कम हुई है। इससे झारखंड में सुखाड़ की स्थिति हाे गई है। सरकार सुखाड़ की समीक्षा करेगी। याेजना बनाकर इससे निबटने का काम करेगी। हर खेत काे सिंचाई का साधन उपलब्ध कराने के लिए याेजना बनाई जाएगी ताकि ऐसी स्थिति आने पर संकट न हाे। उन्होंने कहा- सरकार एक पाैधा लगाने वाले काे पांच यूनिट बिजली फ्री देगी।

खबरें और भी हैं...