मनप्रीत हत्याकांड:हत्या में इस्तेमाल पिस्तौल राहुल ने पूरन चौधरी से ली थी

जमशेदपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनप्रीत पाल। - Dainik Bhaskar
मनप्रीत पाल।

एग्रिको शिव सिंह बागान निवासी मनप्रीत पाल सिंह (21) की घर में घुसकर हत्या मामले में जिस हथियार का इस्तेमाल किया गया था, वह पूरन चौधरी ने ही राहुल सिंह को उपलब्ध कराया था। इस बात का खुलासा रिमांड पर लिए गए आरोपी राहुल सिंह, राहुल गुप्ता और राहुल गुप्ता के भाई गौरव गुप्ता ने सिदगोड़ा पुलिस के समक्ष किया। आरोपियों ने बताया- हत्या से कुछ दिनों पहले ही राहुल ने हथियार लिया था। पूरन चौधरी ने हथियार मुंगेर से मंगवाया था।

तीनों आरोपियों ने पुलिस को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अपने दो अन्य साथियों के नाम बताए हैं। साथियों के निक नेम (उपनाम) बताने की वजह से पुलिस को उनकी धरपकड़ में दिक्कत हो रही है। हत्या में इस्तेमाल बाइक व चाकू के बारे में तीनों आरोपियों ने कुछ नहीं बताया। फिलहाल इनसे पूछताछ जारी है।

अपराधियों ने घर में घुस कर मनप्रीत को मारी थी गोली
8 जून 2022 की शाम अपराधियों ने घर में घुसकर मनप्रीत की गोली मार हत्या कर दी थी। उसपर चाकू से भी वार किया था। मौके पर ही मनप्रीत ने दम तोड़ दिया था। अपराधियों ने उसे 11 गोलियां मारी थी। मनप्रीत के मां के सामने ही अपराधियों ने उसकी हत्या की थी। घटना स्थल से 10 खोखा, दो जिंदा कारतूस, एक खाली मैगजीन पुलिस ने बरामद की थी।

अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग पर सिख समाज और परिवार के लोगों ने चौथे दिन शव का पोस्टमार्टम और अंतिम संस्कार कराया था। पुलिस इस मामले में पूर्व सीएम रघुवर दास के अंगरक्षक कालिका सिंह के दोनों बेटे राहुल सिंह व अक्षय सिंह, गैस एजेंसी के मालिक राहुल गुप्ता, उसके भाई गौरव गुप्ता और नवीन सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

खबरें और भी हैं...