सदमे में समाज:सीजीपीसी प्रधान मुखे के कुकर्म से तंग महिला ने बनाया वीडियो, धारा 376/377 का केस दर्ज

जमशेदपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी यानी सीजीपीसी के प्रधान गुरमुख सिंह मुखे के कुकर्म का वीडियो बनाकर कदमा की एक महिला ने पुलिस से शिकायत दर्ज कराई। महिला की शिकायत के बाद पुलिस ने मुखे के खिलाफ धारा 376 (दुष्कर्म) व धारा 377 (अप्राकृतिक यौनाचार) के तहत केस दर्ज कर लिया है।

महिला चार माह पूर्व पारिवारिक विवाद पर सीजीपीसी कार्यालय मदद मांगने गई थी, जिसका फायदा उठाकर मुखे ने गलत काम किया। इससे तंग आकर महिला ने 2 नवंबर को अपने साथ हुए गलत काम करने का वीडियो बनाया और शनिवार को वीडियो के साथ कदमा थाना पहुंच गई।

महिला की एमजीएम अस्पताल में मेडिकल जांच कराई गई। सोमवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराया जाएगा। महिला ने वीडियो के साथ ही कपड़े भी सबूत के तौर पर पुलिस को दिए है। एसएसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएसपी कमल किशोर को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। इधर, घटना की जानकारी होने पर मानगो गुरुद्वारा के प्रधान के नेतृत्व में सिख समाज के लोग कदमा थाना पहुंचे और मुखे की गिरफ्तारी की मांग की।

थाना में कार्रवाई की मांग पर मानगो गुरुद्वारा के प्रधान भगवान सिंह, साकची गुरुद्वारा के पूर्व प्रधान हरविंदर सिंह मंटू, टिनप्लेट के महामंत्री सुरजीत सिंह, गुरदयाल सिंह, अमरजीत सिंह, सुखवंत सिंह, जसवंत सिंह, सतिंदर सिंह रोमी समेत सिख समाज की महिला व पुरुष कदमा थाना में घंटों जुटे रहे। इधर, छह घंटे तक थाना में जमे रहने के बाद सेंट्रल सिख नौजवान सभा के पूर्व प्रधान सतिंदर सिंह रोमी, जोगिंदर सिंह जोगी समेत कईयों ने सीजीपीसी कार्यालय पर ताला जड़ दिया।

ये है शिकायत का मजमून- पति से विवाद सुलझाने मुखे से मिली पिस्तौल की नोक पर किया दुष्कर्म

पुलिस को दी गई शिकायत में पीड़ित महिला ने बताया - पारिवारिक विवाद पर चार माह पहले पति मुझे और दो बेटों को छोड़कर विदेश चले गए। विवाद के सामाजिक समाधान के लिए करीब चार माह पूर्व मैं सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के साकची स्थित कार्यालय में जाकर प्रधान गुरमुख सिंह मुखे से मिली थी। मुखे ने आश्वासन दिया कि मेरी समस्या का समाधान करेंगे।

करीब डेढ़ माह पूर्व मुखे ने फोन कर घर का पता पूछा। बोला कि इस संबंध में बैठकर बात करनी है। उस दिन शाम में मुखे मेरे घर पर आए। शुभचिंतक समझ मुखे को घर में बैठाया। कुछ देर समस्या पर बात करने के बाद मुखे ने अश्लील बात करनी शुरू कर दी। कहा कि समस्या का हल करने के लिए कुछ सेवा करनी होगी। उनके साथ संबंध बनाना होगा।

विरोध करने पर मुखे गुस्से में आ गए और भला बुरा बोलने लगे। इसी बीच पिस्तौल निकाल मुखे ने कहा कि मेरी इच्छा पूरी नहीं करने पर मुझे और मेरे दोनों बेटे को जान से मार देंगे। पिस्तौल देख मैं डर गई जिसके बाद मुखे ने जबरन मेरे साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद मुखे ने कई बार मेरे घर आकर संबंध बनाया।

आरोप के बाद सीजीपीसी कार्यालय पर लगाया ताला

सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान गुरमुख सिंह मुखे पर दुष्कर्म का आरोप लगने के बाद सेंट्रल सिख नौजवान सभा के पूर्व प्रधान सतेंद्र सिंह रोमी, जोसिंदर सिंह जोगी समेत कई लोग सीजीपीसी कार्यालय पर इक्ट्ठा हो गए। इसके बाद इन लोगों ने कार्यालय के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया। इन लोगों का कहना था कि मुखे की हरकत के कारण समाज की प्रतिष्ठा को आघात पहुंचा है। उस पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

2 नवंबर को महिला ने बनाया 18 मिनट का वीडियो
दुष्कर्म से तंग आकर महिला ने गुरमुख सिंह मुखे के ज्यादती का वीडियो बनाने के लिए अपने मोबाइल कैमरे का उपयोग किया। मोबाइल कैमरे को कमरे के एक हिस्से में रख दिया था। 18 मिनट के वीडियो में मुखे की करतूत को कैद किया। महिला के मुताबिक 2 नवंबर को उसने यह वीडियो बनाया। जब मुखे आखिरी बार घर आया था। मुखे पहले भी विवादों में रहे।

9 नंवबर 2019 को सीतारामडेरा में गुरचरण सिंह बिल्ला को गोली मारने में साजिशकर्ता का आरोप लगने के बाद उन्हें 17 नवंबर 2019 को जेल भेजा था। एक साल तक जेल में रहने के बाद मुखे को जमानत मिली थी।

साजिश के तहत फंसाया जा रहा

"विरोधी लोग बेवजह आरोप लगा रहे हैं। यदि महिला के साथ दो नवंबर को घटना हुई है तो वह तीन दिनों के बाद थाना क्यों पहुंची। महिला ने जो भी वीडियो पुलिस को दिया है, उसकी जांच होनी चाहिए। कुछ लोग साजिश के तहत बदनाम करने का काम कर रहे हैं।"

- गुरमुख सिंह मुखे

-​​​​​​​डीएसपी को जांच का आदेश

कदमा थाना में महिला ने मुखे के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए लिखित शिकायत की है। महिला की मेडिकल जांच कराई गई है। डीएसपी कमल किशोर को जांच का आदेश दिया गया है। जांच के बाद कार्रवाई होगी।
- प्रभात कुमार, एसएसपी जमशेदपुर

खबरें और भी हैं...