हत्या की घटना:कपाली के गौसनगर में गर्दन व सीने पर चाकू घोंपकर युवक की हत्या, दूसरी पत्नी के बंद घर में मिली लाश

जमशेदपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कपाली के गौसनगर में प्लंबर शहबाज आलम (27) की शुक्रवार दिन में हत्या कर दी गई। - Dainik Bhaskar
कपाली के गौसनगर में प्लंबर शहबाज आलम (27) की शुक्रवार दिन में हत्या कर दी गई।

कपाली के गौसनगर में प्लंबर शहबाज आलम (27) की शुक्रवार दिन में हत्या कर दी गई। उसकी गर्दन और छाती पर चाकू से हमला किया गया है। मोबाइल बंद रहने की वजह से पहली पत्नी शहजादी परवीन उसे खोजते हुए दूसरी पत्नी इशरत के घर पहुंची। अंदर से दरवाजा बंद देख खिड़की से झांकने पर पति को जमीन पर लहूलुहान अवस्था में देखा। उसके शोर मचाने पर और लोग जुटे और कपाली पुलिस को खबर की गई। पुलिस ने पहुंचकर ग्रिल का ताला तोड़कर शव बाहर निकाला। शुक्रवार देर शाम शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। पहली पत्नी ने दूसरी पत्नी पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को लिखित शिकायत दी है। वहीं, दूसरी पत्नी फिलहाल फरार है। हत्या का आरोप दूसरी पत्नी इशरत पर लगाया गया है।

शहबाज गुरुवार की रात ताजनगर असरफी मस्जिद के पास दूसरी पत्नी के पास आया था जो किराए के मकान में रहती है। सुबह 11 बजे तक जब वह पहली पत्नी शहजादी के घर नहीं पहुंचा तो उसने पति के मोबाइल पर कॉल किया। मोबाइल बंद मिला तो उसने अपने जेठ गुलवेज आलम को फोन कर दूसरी पत्नी के घर जाने को कहा। शाम में दूसरी पत्नी के घर पहुंचने पर पति का खून से लथपथ शव मिला।

हत्या के बाद से दूसरी पत्नी फरार

शहबाज के बड़े भाई गुलवेज लम ने बताया कि वह अल कबीर पॉलटेक्निक कॉलेज के पीछे रहता है। शहबाज की पहली शादी वर्ष 2008 में शहजादी परवीन से हुई थी। पहली पत्नी से 12 साल का एक बेटा, पांच साल का दूसरा बेटा और एक साल की एक बेटी है। डेढ़ साल पहले इशरत से दूसरी शादी की थी। इसके बाद फैसला हुआ कि एक-एक दिन वह दोनों पत्नियों के साथ रहेगा। गुरुवार सुबह 10 बजे वह पहली पत्नी के घर से दूसरी पत्नी के घर जाने के लिए निकला था।

खबरें और भी हैं...