पुलिस ने भेजा जेल:चचेरे भाई ने बहन को किया गर्भवती पाप छुपाने की नीयत से कर दी हत्या

चाईबासा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मझगांव थाना क्षेत्र के हल्दिया टोला कुबा साई निवासी 21 वर्षीय बहन की हत्या चचेरे भाई पूरन हेंब्रम ने झाड़ी में गला दबाकर कर दी। घटना बुधवार की रात करीब आठ बजे की बताई जाती है। घटना को अंजाम देने के दूसरे दिन गुरुवार की सुबह आरोपी ने अपने आप को पुलिस के हवाले कर दिया। मृतका के पेट में आरोपी के छह महीने का अवैध बच्चा था। इस पाप को छुपाने की नीयत से आरोपी ने हत्या की घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने मृतका के शव को सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। घटना के संबंध में मृतिका के पिता ने बताया कि बेटी के साथ आरोपी भतीजा पूरन हेंब्रम का पिछले एक साल से अवैध संबंध चल रहा था।

एक साल पहले भी आरोपी ने मृतका को गर्भवती किया था। तब आरोपी ने बहन के पेट में पल रहे शिशु को दवा खिलाकर गिरवा दिया, जिसके बाद फिर दोनों के बीच लुक छिपकर अवैध संबंध चल रहा था, लड़की फिर गर्भवती हुई। उसके पेट में छह माह का गर्भ था। दोनों के बीच बदनामी से बचने के लिए डिलीवरी से पहले गांव छोड़कर भागने की प्लानिंग चल रही थी। इस प्लानिंग के तहत आरोपी ने बुधवार की शाम 7:00 बजे बहन को कहीं भागने की बात कहकर घर से बुला लिया। घर से करीब 400 फीट की दूरी पर ले जाने के बाद आरोपी ने झाड़ी के बीच गला दबाकर उसकी हत्या कर दी।

युवक ने रिश्ते में चचेरी बहन से किया दुष्कर्म

चाईबासा| पश्चिमी सिंहभूम जिले में एक ही गोत्र की नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म व हत्या की घटना थमने का नाम नहीं ले रही। हो समाज को कलंकित करने वाली इस तरह की घटना फिर सामने आई है। रिश्ते में चचेरी बहन लगने वाली नाबालिग के साथ 20 वर्षीय युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। यह घटना मुफस्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत सदर प्रखंड के एक गांव की है। पीड़िता के बयान पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को पोक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर गुरुवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। 20 वर्षीय युवक सेलाय सिंहकुंटिया ने रिश्ते में बहन लगने वाली एक ही गोत्र की 16 वर्षीया नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया।

घटना 24 सितंबर की रात की बताई जाती है। मामला प्रकाश में आने के बाद लड़की के बयान पर आरोपी के विरुद्ध पोक्सो एक्ट के तहत मुफस्सिल थाना में दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज करने के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। वहीं, पीड़िता को सदर अस्पताल में मेडिकल जांच कराया गया।

खबरें और भी हैं...