बंगला मध्य विद्यालय का निरीक्षण:वर्ग एक से तीन तक के बच्चों के वाक्यों को समझने के स्तर का किया मूल्यांकन

चाईबासा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत सरकार की नई शिक्षा नीति के निपुण भारत मिशन के अंतर्गत पश्चिमी सिंहभूम जिले के दस चयनित विद्यालयों में मूलभूत साक्षरता एवं संख्यात्मकता के क्रियान्वयन का मूल्यांकन करने के लिए रांची से आई यूनिसेफ़ के राज्य स्तरीय सलाहकार पल्लवी शॉ ने आज नगरपालिका बंगला मध्य विद्यालय का निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने प्रधानाध्यापक असीम कुमार सिंह के साथ विद्यालय में एफ एल एन से संबंधित गतिविधियों की जानकारी ली तथा बच्चों की दैनिक उपस्थिति का जायजा लिया।

इस क्रम में वर्ग एक से तीन के बच्चों के साथ रूबरू भी हुईं। विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से वाक्यों एवं संख्याओं को समझने के स्तर का मूल्यांकन किया। बच्चों द्वारा दिए गए जवाब तथा श्यामपट्ट पर पूछे गए प्रश्नों के सटीक जवाब से वे काफी प्रभावित हुईं तथा प्रधानाध्यापक को और बेहतर करने का सुझाव दीं। ज्ञातव्य हो कि भारत सरकार ने 5 जुलाई 2021 को बेहतर समझ और संख्यात्मक ज्ञान के साथ पढ़ाई में प्रवीणता के लिए निपुण भारत मिशन की शुरुआत की है।

जिसका मुख्य उद्देश्य 3 से 9 वर्ष तक की आयु के बच्चों की सीखने की आवश्यकताओं को पूरा करना है। विद्यालय निरीक्षण के क्रम में यूनिसेफ़ की राज्य सलाहकार पल्लवी के साथ समग्र शिक्षा अभियान पश्चिमी सिंहभूम के रघुवर तिवारी, विद्यालय के प्रधानाध्यापक असीम कुमार सिंह, विज्ञान शिक्षिका मिनाक्षी सहाय उपस्थित थीं।

खबरें और भी हैं...