पश्चिमी सिंहभूम में हत्या कर टांग दी थी लाश:आम के पेड़ में शव टांगकर आत्महत्या साबित करने की थी कोशिश, पुलिस ने सभी आरोपियों को किया गिरफ्तार

पश्चिमी सिंहभूम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पश्चिमी सिंहभूम एसपी आशुतोष शेखर मामले का खुलासा करते हुए - Dainik Bhaskar
पश्चिमी सिंहभूम एसपी आशुतोष शेखर मामले का खुलासा करते हुए

पश्चिमी सिंहभूम के जेटेया थाना क्षेत्र में हत्या के मामले का खुलासा हुआ है। इस हत्याकांड को आत्महत्या साबित करने के लिए रणनीति तैयार की गयी थी। शव को पेड़ से टांग दिया था। पेड़ में लटका कार्तिक का शव बरामद किया गया था। कार्तिक की पत्नी कोन्को देवी ने हत्या की आशंका जाहिर की थी।

अब इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पश्चिमी सिंहभूम जिले के जेटेया थाना क्षेत्र के पटैता टोला गांव के हतनाबेड़ा में रहने वाले कार्तिक नायक की हत्या की गयी थी। इस मामले में उसी के गांव की रहने वाली बालेमा पूर्ति, युवक केशव पूर्ति और पहाड़ सिंह लागुरी को गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार आरोपियों के पास से इस हत्याकांड में इस्तेमाल किया गया है डंडा, मृतक का हवाई चप्पल और मोटरसाइकिल भी बरामद की गयी है। पूरे मामले के खुलासे के बाद पश्चिमी सिंहभूम एसपी आशुतोष शेखर ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि कार्तिक नायक की हत्या योजनाबद्व तरीके से 18 सितंबर को की गयी थी। घटना को आत्महत्या का रूप देने के लिये अपराधियों ने शव को पेड़ से टांग दिया था। पुलिस ने मामले की जांच कर जामजुई निवासी पहाड़ सिंह को गिरफ्तार कर पूछताछ की। इस पूछताछ में इस पूरे मामले का खुलासा हुआ।

पहाड़ सिंह ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि बालेमा पूर्ति व केशव पूर्ति ने उसे 25 हजार देने की बात कही थी। बालेमा पूर्ति ने भी माना है कि उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया क्योंकि उसके भाई बीमा पूर्ति को एक मामले में कार्तिक नायक ने पुलिस से गिरफ्तार कराया था। लंबे समय से वह इस बात का बदला कार्तिक से लेना चाहती थी। आरोपियों ने बताया कार्तिक नायक की डंडे और लात-घुसा से मारकर हत्या की थी इसके बाद किसी को शक ना हो इसलिए सड़क किनारे आम के पेड़ में गमछी के सहारे लाख को टांग दिया गया था।