सोनू सूद फाउंडेशन का नाम लेकर ठगी:खाते से साइबर अपराधियों ने उड़ाये 50 हजार रुपए, सोनू सूद से लगायी थी गुहार

चतरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोनू सूद फाउंडेशन का नाम लेकर ठगी - Dainik Bhaskar
सोनू सूद फाउंडेशन का नाम लेकर ठगी

सोनू सूद फाउंडेशन का नाम लेकर चतरा जिले के रहने वाले नीरज पांडेय से 50 हजार की साइबर ठगी की गई है। इसको लेकर बरियातू थाना में एफआईआर दर्ज करायी गई है। गौरतलब है कि मरीज के बेटे ने ट्वीट कर सोनू सूद से मदद की गुहार लगाई थी। ट्वीट में अपना मोबाइल नंबर भी दिया था। ठगों ने इसका इस्तेमाल करते हुए ठगी का शिकार बना लिया।

मदद की लगाई थी गुहार, साइबर ठग ने उड़ा लिए पैसे
सोनू सूद से मदद की गुहार लाने वाले व्यक्ति के साथ साइबर ठगी हुई है। सोनू सूद को किए गये ट्वीट में फरियादी ने नंबर भी छोड़ दिया अब उसी नंबर की मदद से अपराधियों ने 50 हजार रुपए की साइबर ठगी कर ली। अपराधियों ने सोनू सूद फाउंडेशन के नाम पर ठगी कर ली। घटना चतरा जिले के रहने वाले नीरज पांडेय के साथ हुई वह फिलहाल रांची में रहते हैं।

छह महीने इलाजरत थे पिता, आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं
इस साइबर ठगी को लेकर बरियातू थाना में एफआईआर दर्ज करायी गई है। बीमारी में सोनू सूद से मदद के लिए अपील की गयी थी। टि्वटर के माध्यम से सोनू सूद से मदद मांगी गयी थी। चतरा जिले के मयूरहंड प्रखंड के एकतारा गांव के रहने वाले गोपाल पांडे 15 जून से रिम्स के ऑर्थो वार्ड में इलाजरत थे। 6 महीने से इलाज के दौरान आर्थिक परेशानी होने लगी, जिसके बाद मरीज के पुत्र नीरज पांडेय ने अपने परिचित से मदद की गुहार लगाई। जिसके बाद ट्विटर पर मदद के लिए वीडियो पोस्ट किया, जिसमें मोबाइल नंबर भी दिया। ट्विटर में वीडियो पर साइबर ठगों की नजर पड़ गयी।

किस तरह हुई ठगी
टि्वटर से नंबर निकाल कर साइबर ठगों ने पीड़ित परिवार से संपर्क कियाय़ बताया कि वे सोनू सूद फाउंडेशन से हैं ओर वो उनकी मदद करना चाहते हैं। साइबर ठगो ने मदद का भरोसा दिया और बैंक खाते से दो बार में करीब 50 हजार खाते से उड़ा लिये। ठगों ने नीरज को झांसा देकर पहले एनी डेस्क एप डाउनलोड कराया, उसके बाद उसी की मदद से खाते से पैसे उड़ा लिये।

क्या हुई पूरी बातचीत
साइबर ठग ने सामने से कॉल कर मदद का भरोसा दिया। कहा, सोनू सूद फाउंडेशन का मैनेजर बोल रहा हूं। टि्वटर से हमें आपके संबंध में जानकारी मिलीष आपने हमें टि्वटर पर सारी बातें बतायी हैं। हम आपकी मदद करना चाहते हैं। नीरज ने भी पारिवारिक स्थिति, इलाज की सारी बातें बतायी। साइबर ठग ने पूछा आपको कितने पैसे की जरूरत है।

नीरज ने कहा, लगभग 3 लाख रुपए तक खर्च होंगे। उन्होंने 1 लाख रुपए मदद करने की गुहार लगाई। साइबर ठग ने प्ले स्टोर पर सोनू सूद ऐनी डेस्क एप डाउनलोड करने के लिए कहा और यहीं से झांसे में लेकर फोन पे के जरिए दो किस्तों में पैसा ठग लिया। पहली बार में 19,999 और दूसरी बार में 29,899 खाते से उड़ा लिया।

खबरें और भी हैं...