माहवारी स्वच्छता प्रबंधन पर एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन:बालिका उवि में माहवारी स्वच्छता पर कार्यशाला

चतरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राज्य संपोषित बालिका उच्च विद्यालय चतरा में शुक्रवार को माहवारी स्वच्छता प्रबंधन पर एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम यूनिसेफ की सहयोगी संस्था लीड्स के तत्वावधान में आयोजित था। कार्यशाला का उद्घाटन जिला शिक्षा पदाधिकारी दिनेश कुमार मिश्र व लीड्स के राज्य परियोजना समन्वयक वर्षा सिंह, निशा त्रिपाठी, सहायक साधन सेवी मनोज सिंह, सदर अस्पताल के डॉ पंकज एवं डॉ सौरभ ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

कार्यशाला में जिले के सभी प्रखंडों से उच्च विद्यालय, प्लस टू उच्च विद्यालय, सभी कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय, झारखंड आवासीय विद्यालय, परियोजना उच्च विद्यालय व प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय से एक एक शिक्षक और शिक्षिकाएं शामिल हुए।

कार्यशाला में प्रतिभागियों और विद्यालय की छात्राओं के द्वारा माहवारी पर पूछे गए सवालों का जवाब सदर अस्पताल के डॉ पंकज कुमार के द्वारा विस्तारपूर्वक दिया गया। माहवारी के दिनों में पेट दर्द क्यों होता है, इन दिनों में किस तरह का खानपान का सेवन करना चाहिए साथ ही अन्य कई सवालों का जवाब माहवारी की कार्यशाला में डॉक्टरों के द्वारा दिया गया। वर्षा सिंह ने प्रत्येक विद्यालयों में इंसीनरेटर के निर्माण एवं महावारी स्वच्छता प्रबंधन लैब की आवश्यकता पर बल दिया।

निशा त्रिपाठी ने शिक्षा विभाग के द्वारा उपलब्ध कराई गई ग्रांट की राशि से विद्यालयों में इंसीनरेटर बनाने के लिए सभी प्रभारी को सलाह दिया। उन्होंने माहवारी स्वच्छता प्रबंधन के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। माहवारी स्वच्छता एवं उसके उचित प्रबंधन को लेकर विभिन्न विद्यालय के शिक्षक-शिक्षिकाओं ने कार्यशाला में प्रशिक्षक से जानकारी प्राप्त की। कार्यशाला के अंत में बालिका उच्च विद्यालय की प्राचार्य नीतू प्रजापति ने बालिका विद्यालय में इस तरह के कार्यशाला का आयोजन के लिए संस्थान को धन्यवाद दिया। कार्यशाला के सफल आयोजन में लीडस् के जिला समन्वयक अर्जुन कुमार ने अहम भूमिका निभाई।

खबरें और भी हैं...