कार्रवाई:शराब माफिया को बचाकर दूसरे व्यक्ति को जेल भेजने के मामले में फंसे तत्कालीन थानेदार की होगी गिरफ्तारी

गिरिडीह8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रंजीत समेत 8 लोगों पर दर्ज हो चुकी है प्राथमिकी, गिरफ्तार दो आरोपियों को भेजा गया जेल

गिरफ्तार असली शराब माफिया को रात में ही मैनेज कर छोड़ने और उसके स्थान पर उसी नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार को जेल भेजने के मामले में राजधनवार के निलंबित तत्कालीन थाना प्रभारी पर प्राथमिकी भी दर्ज हो चुकी है और उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस लगातार छापामारी कर रही है।

कांड संख्या 296/2021 में विभिन्न धाराओं के तहत दर्ज प्राथमिकी में निलंबित थानेदार संदीप कुमार के अलावा अन्य 8 लोगों को इस मामले में पुलिस ने अभियुक्त बनाया गया है। जिसमें असली शराब कारोबारी रंजीत साव के अलावा सुधांशु साव, सिकंदर साव सहित अन्य लोग हैं। तिसरी पुलिस इंस्पेक्टर परमेश्वर लियांगी की शिकायत पर राजधनवार में यह प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिसमें पुलिस ने शुक्रवार को सुधांशु साव व सिकंदर साव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

बताया जाता है कि सुधांशु साव उसी बोलेरो का चालक है जिस बोलेरो को संदीप कुमार ने शराब बनाने वाली विभिन्न सामग्रियों के साथ जब्त किया और रात में ही उसे छोड़ भी दिया। जबकि सिकंदर साव फरार शराब कारोबारी रंजीत साव का भाई है। विदित हो कि पुलिस के अनुसार एक साजिश के तहत अवैध अंग्रेजी शराब की सामग्री लदी बोलेरो के साथ धनवार के रहने वाले मुख्य आरोपी रंजीत साव को छोड़ने के साथ मुख्य आरोपी के जगह मधुपुर के रहने वाले रंजीत साव नामक दूसरे व्यक्ति पर एफआईआर कर जेल भेजने के मामले में विभागीय अधिकारियों के आदेश पर यह प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

मामला 29 नवंबर 2021 की है। लेकिन दूसरे दिन प्रेस वार्ता के बाद ही मामले की पोल खुल गई और स्थानीय एसडीपीओ मुकेश कुमार ने एसपी को रिपोर्टिंग कर दी। लिहाजा 4 दिसंबर 2021 को एसपी अमित रेणु ने संदीप को निलंबित करते हुए नागेन्द्र कुमार को धनवार का थाना प्रभारी बनाया। साथ ही निलंबित संदीप सहित इस घटनाक्रम में संलिप्त तमाम लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई का आदेश दिया। इसके बाद तिसरी इंस्पेक्टर ने प्राथमिकी दर्ज कराई, जिसमें दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया, बाकि अन्य लोगांे की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस लगातार छापामारी कर रही है।

जल्द ही अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करेगी पुलिस: इंस्पेक्टर
इधर तिसरी के पुलिस इंस्पेक्टर परमेश्वर लियांगी ने कहा इस मामले में 2 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेजा है। इसमें निलंबित थानेदार संदीप कुमार, असली शराब माफिया रंजीत साव सहित अन्य 6 अभियुक्त हैं जो अभी फरार हैं। पुलिस उन लोगों को गिरफ्तार करने को लेकर लगातार छापामारी कर रही है।

खबरें और भी हैं...