पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

योजना पर काम:जिले के 139 गांवों में होगी अगस्त तक पेयजलापूर्ति

गिरिडीह18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 80 लाख रुपए से हो रहा योजना पर काम
  • इस बात की जानकारी पीएचइडी-टू के कार्यपालक अभियंता मुकेश कुमार मंडल ने दी

गिरिडीह जिला के 80 घर आबादी वाले गांवों को चिह्नित कर जल-जीवन मिशन योजना के तहत 2024 तक पाइपलाइन के माध्यम से पेयजल घर-घर पहुंचाने का निर्देश सरकार ने दिया है।इस योजना के द्वारा पीएचइडी-2 ने जिला के दो हजार गांवों को चिह्नित कर पानी आपूर्ति करने का कार्य प्रारंभ कर दिया है। वर्तमान में इस योजना के तहत राज्य सरकार ने 139 गांवों में कार्य प्रारंभ करने की योजना स्वीकृति दे दी है। पेयजलापूर्ति करने के लिए पीएचइडी -2 के द्वारा टेंडर प्रकाशित कर कार्य प्रारंभ कर दिया है।

इस बात की जानकारी पीएचइडी-टू के कार्यपालक अभियंता मुकेश कुमार मंडल ने दी। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन योजना के द्वारा 2024 तक जिस गांव में ग्रामीण जनता को पाइपलाइन के द्वारा पानी नहीं मिल रहा है उस गांव में डीप बोरिंग करके पाइपलाइन के द्वारा घर-घर गांव की जनता को शुद्ध पानी पहुंचाया जाना है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन की एक योजना की प्राक्कलित राशि 80 लाख रुपए है। इस योजना के तहत गिरिडीह जिला में 200 करोड़ रुपए से अधिक खर्च होने की संभावना है। पीएचइडी-वन द्वारा छह महीने से अधिक समय बीत जाने के बाद भी गांव का सर्वे कार्य पूरा नहीं किया गया है। इस संबंध में पीएचइडी वन के कार्यपालक अभियंता अनुप कुमार महतो ने कहा कि उसके प्रमंडल के अंदर 5 प्रखंड हैं। इस योजना के द्वारा गांव का सर्वे कार्य किया जा रहा है। सर्वे कार्य पूरा होने के बाद योजना की स्वीकृति के लिए सरकार को भेज दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...