पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना इफेक्ट:हरिहरधाम मंदिर दूसरी सोमवारी पर भी रहा बंद

बगोदर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रशासन के निर्देश पर अगले आदेश तक मंदिर में तालाबंदी है, श्रद्धालुओं के आने पर है प्रतिबंध

वैश्विक महामारी कोरोना के मद्देनजर बड़े छोटे धार्मिक प्रतिष्ठानों में  पूजा आराधना में फर्क स्पष्ट दिखने लगे हैं। बड़े धार्मिक प्रतिष्ठानों में ताले लटके हैं। जबकि छोटे धार्मिक प्रतिष्ठानों में पूजा आराधना की धूम मची हुई है।  पवित्र माह सावन की दूसरी सोमवारी पर बगोदर के ऐतिहासिक हरिहर धाम मंदिर में सन्नाटा पसरा रहा। इक्का-दुक्का महिला श्रद्धालु मंदिर के मुख्य दरवाजे पर पहुंचकर मत्था टेक  वापस लौट गए । वहीं छोटे धार्मिक प्रतिष्ठानों अर्थात शिवालयों में पूजा आराधना को लेकर सोमवार को धूम मची रही।पहली सोमवारी पर भी हरिहरधाम मंदिर प्रांगण में सन्नाटे का आलम था। हरिहरधाम को छोड़ बगोदर और आसपास के शिवालयों में सुबह से शाम तक महिला पुरुष श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा ।

प्रखंड मुख्यालय स्थित शिवालय ,बगोदरडीह स्थित शिवालय ,मुखर्जी पुल शिवालय चौथा स्थित शिवालय समेत आसपास के शिवालयों में श्रद्धालु खासकर महिलाएं भगवान  शिव पर जलाभिषेक और पूजा अर्चना के लिए पहुंची थी। इधर, हरिहर धाम मंदिर के प्रबंधक भीम  यादव तथा पुजारी वेदांती पाठक ने बताया कि दूर-दूर तक हरिहर धाम में तालाबंदी की खबर पहुंची है। प्रशासन के निर्देश पर अगले आदेश तक मंदिर में तालाबंदी जारी है, लिहाजा श्रृद्धालुओं का आना पूर्णता बंद है। आसपास के श्रद्धालु मंदिर के मुख्य  दरवाजे पर पहुंचकर मत्था टेक कर लौट जा रहे हैं। यहां बड़ा सवाल यह है की कोरोना के मद्देनजर धार्मिक प्रतिष्ठानों में तालाबंदी का असर सिर्फ बड़े मंदिरों में ही क्यों दिख रहा है ।

जबकि छोटे शिवालय पूजा पाठ के लिए खुले पड़े हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का भी अनुपालन नहीं हो पा रहा है। बताते चलें कि एसडीएम बगोदर सरिया अनुमंडल के आदेशानुसार हरिहर धाम में 22 मार्च से ताला बंद है। किसी तरह की पूजा आराधना और धार्मिक अनुष्ठान पर पाबंदी लगी है ।मगर हरिहर धाम को छोड़ कर बगोदर प्रखंड के इलाकों में स्थित शिवालयों में  प्रशासन के आदेशों का कोई असर नहीं दिख रहा है । हरिहर धाम मंदिर में तालाबंदी की वजह से विवाह शादी के शुभ लग्न के मौके पर इस बार मंदिर प्रांगण में  मार्च से जुलाई के बीच एक भी शादियां नहीं हुई ।जबकि मंदिर के बाहर सड़क किनारे मैरिज हॉलो में इस अवधि में शादियों की धूम मची थी। 

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

    और पढ़ें