नियमित रूप से लोडिंग:रैक प्वाइंट के लिए कोयला ढुलाई का अधिकार लेबर को-ऑपरेटिव को दिया जाए : झाजेमयू

गिरडीह9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सीसीएल के लोडिंग मजदूरों को नियमित रूप से लोडिंग के काम के साथ-साथ ओपन कास्ट माइंस से कबरीबाद स्थित रैक प्वाइंट तक कोयला ढुलाई का अधिकार भी स्थानीय लेबर कोऑपरेटिव को मिलना चाहिए। ऐसा करने से सीसीएल के आसपास के हजारों बेरोजगारों के लिए रोजगार की व्यवस्था की जा सकती है।

सीसीएल क्षेत्र में मजदूरों के हक के हक की बात करने वाले सभी यूनियनों को एकजुट होकर इस के लिए लड़ाई लड़ने की जरूरत है। ये बातें भाकपा माले नेता सह एआईसीसीटीयू के राष्ट्रीय पार्षद राजेश कुमार यादव और जिला परिषद सदस्य मनोवर हसन बंटी ने झारखंड जनरल मजदूर यूनियन (झाजेमयू) के सदस्यता अभियान को लेकर गुहियाटांड़ में आयोजित स्थानीय मजदूरों की एक बैठक में कही। यूनियनों को एकमत होकर रोजगार की लड़ाई लड़नी होगी।

कहा कि किसी भी कंपनी के लिए यहां से कोयला भेजने का मतलब है, मजदूरों के अधिकारों से समझौता करना। यहां के स्थानीय हजारों लोग ऐसा नहीं होने देंगे। क्योंकि उन्हें सीसीएल से रोजगार की अपेक्षा है और जरूरत भी।

हमारी आंखों के सामने हमारा रोजगार छीना जा रहा : ब्रांच सचिव
बैठक की अगुवाई माले के स्थानीय ब्रांच सचिव प्रधान टूडू और संचालन सोरेन चौड़े और मनोज हांसदा ने किया। कहा कि, सीसीएल ओपन कास्ट माइंस के बिल्कुल करीब रहने के बावजूद गांव के बेरोजगारों को काम नहीं मिलता। हमारी आंखों के सामने हमारा रोजगार छीना जा रहा है। गांव में आने-जाने के लिए हमें माइंस के बगल से कीचड़ भरे रास्ते होकर गुजरना पड़ता है।

वहां आज तक सड़क तक नहीं बनाई गई है। हमें विकास और रोजगार चाहिए जो सीसीएल को देना ही होगा। बैठक में मुख्य रूप से जिला परिषद सदस्य मनोवर हसन बंटी, पप्पू मुर्मू, युगल बेसरा, रीबलाल चौड़े, बीरेंद्र बेसरा, राजू बेसरा, चरकु मुर्मू, समशुद्दीन अंसारी, रामसोल किस्कू, छोटेलाल मुर्मू, मुस्तकीम अंसारी, मधु चौड़े, जितेंद्र चौड़े, मो हारून, सद्दाम अंसारी, मुमताज अंसारी, मदन मुर्मू, आजाद अंसारी, प्रदीप टुडू थे।

खबरें और भी हैं...