पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आरोप:माले ने कंपनी पर लगाया ऊर्जा मित्रों का शोषण करने का आरोप

गिरिडीहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मीटर रीडिंग करने वाले 250 से भी अधिक ऊर्जा मित्रों का हाे रहा शोषण

माले नेता राजेश यादव ने कहा कि गिरिडीह जिले में घर-घर जाकर बिजली का मीटर रीडिंग करने वाले 250 से भी अधिक ऊर्जा मित्रों का शोषण हो रहा है। पहले ये सभी ऊर्जा मित्र साईं कंप्यूटर लिमिटेड नामक कंपनी के अधीन कार्य कर रहे थे । जिसका कॉन्ट्रैक्ट पूरा होने के बाद अब एक नई कंपनी ने इस जिले का कार्य ले लिया है। नई कंपनी इमडी डिजिट्रोनिक्स प्राइवेट लिमिटेड ने आते ही सभी उर्जा मित्रों का पहले से भी ज्यादा शोषण शुरू कर दिया है। पीड़ित कई उर्जा मित्रों ने इसे लेकर भाकपा माले नेताओं से मुलाकात कर उन्हें अपनी समस्या बताई। उन्होंने कहा कि पिछले 3 महीने काम करने के बावजूद उन्हें उनके मेहनताने का भुगतान नहीं किया गया है। अभी लॉकडाउन के कारण उनकी परिस्थिति वैसे भी बहुत खराब है।

इसके बावजूद नई कंपनी ने आते ही उनके ऊपर नए सिरे से और पहले से भी जोरदार तरीके से काम के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया है। पहले वाली कंपनी जहां उन्हें प्रत्येक कनेक्शन पर 4.50 भुगतान करती थी, वहीं नई कंपनी 4 ही प्रति कनेक्शन ही भुगतान करने की बात कर रही है। साथ ही नई कंपनी द्वारा प्रति ऊर्जा मित्र सिर्फ 1200 घरों में ही बिलिंग का काम करना फिक्स कर दिया गया है। जाहिर है इस हिसाब से महज 4800 ही प्रति ऊर्जा मित्र एक महीने में कमा पाएंगे। इससे उनका भरण पोषण कठिन हो जाएगा। जबकि पहले की कंपनी का भी न्यूनतम 1200 घर ही बिलिंग करना फिक्स था, लेकिन अधिकतम की कोई सीमा नहीं थी । जिस कारण कोई भी ऊर्जा मित्र जीने-खाने लायक उपार्जन कर लिया करते थे। यही नहीं नई कंपनी द्वारा काम से हटाने की धमकी देकर प्रति ऊर्जा मित्र 15000 की मांग की गई है। राजेश यादव अाैर राजेश सिन्हा ने ऊर्जा मित्रों की बात सुनने के बाद कहा कि नई कंपनी चाहे जो भी हो, गिरिडीह जिले के बेरोजगार युवा, जो पिछले 4 वर्षों से इस काम को कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...