पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पाबंदी:अष्टमी तक सोना पहाड़ी मंदिर में बलि पूजा नहीं

बगोदर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चैत्र नवरात्र के अलावा, 26 जनवरी, 15 अगस्त और गांधी जयंती के मौके पर रहेगी पाबंदी

गिरिडीह जिला अंतर्गत बगोदर प्रखंड के बेको स्थित सोना पहाड़ी मंदिर में दुर्गापूजा व नवरात्रा के मद्देनजर इस साल बकरे की बलि पूजा नहीं होगी। सामान्यतः पूजा व मन्नत मांगने का सिलसिला जारी रहेगा। मंदिर प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष खेमलाल महतो ने उक्त जानकारी दी। उन्होंने बताया की दुर्गा पूजा नवरात्रा, चैत्र नवरात्र में 8- 8 दिन के अलावा 26 जनवरी, 15 अगस्त और गांधी जयंती के मौके पर 2 अक्टूबर को सोना पहाड़ी मंदिर में बलि पूजा पर पाबंदी है।

बताते चलें कि सोना पहाड़ी मंदिर पहुंचकर श्रद्धालु द्वार सैनी माता से विभिन्न इच्छाओं की पूर्ति के लिए मन्नत की मांग करते हैं। मन्नत पूरी होने पर बकरे के साथ पूजा आराधना के लिए मंदिर पहुंचते हैं। जहां विधिवत बकरे की बलि की पूजा होती है। बलि के उपरांत बकरे का प्रसाद मंदिर के 5-7 किलोमीटर की परिधि में ही ग्रहण करने की परिपाटी है। दयाल चौधरी के दुर्ग के रूप में स्थापित सोना पहाड़ी मंदिर के इर्द-गिर्द उनके कालखंड में खुदवाए गए 5 तालाब हैं। तालाबों के इर्द-गिर्द ही श्रद्धालु बली पूजा के पश्चात प्रसाद ग्रहण करते हैं। पुराना बांध, बडकी बांध, मंझला बांध, नायक बांध तथा राम सागर बांध यहां मौजूद है। मंदिर के चारों ओर अवस्थित इन सरोवर और बाग बगीचों से यह धर्मस्थल अटा पड़ा है। यहां पहुंचने वाले श्रद्धालु को बरबस यह इलाका अपनी ओर आकर्षित करता है। दयाल चौधरी की गाथाओं से अटा पड़ा सोना पहाड़ी मंदिर पहुंच कर न सिर्फ लोगों की मन्नते पूरी होती है बल्कि यहां पल भर के लिए सुख और चैन प्राप्त होते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें