कांग्रेस का विरोध करते हुए भाजपाईयों ने दिया मौन धरना:वक्ताओं ने कहा-जब पीएम की सुरक्षा का यह हाल तो भाजपा के आम कार्यकर्ताओं का क्या हाल होगा

गिरिडीह11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस को सद्‌बुद्धि देने के लिए धरना पर बैठे भाजपाई। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस को सद्‌बुद्धि देने के लिए धरना पर बैठे भाजपाई।

पंजाब यात्रा में पीएम नरेंद्र माेदी की सुरक्षा में चूक काे लेकर भाजपा का विराेध प्रदर्शन जारी है। शुक्रवार को गांधी चौक पर भाजपाइयों ने कांग्रेसियों की सद्बुद्धि के लिए मौन प्रदर्शन किया। शहर में प्रदर्शन के लिए यह पहला जगह था। नया जगह इसलिए क्योंकि गांधी चौक पर गांधी प्रतिमा के समक्ष मौन प्रदर्शन कर गांधीगिरी भी दिखाना था। जिलाध्यक्ष महादेव दुबे के नेतृत्व में मौन धरना हुआ।

मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष यदुनंदन पाठक, जिला उपाध्यक्ष श्याम प्रसाद, किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष दिलीप वर्मा, मुकेश जालान, ओबीसी मोर्चा के प्रदेश प्रवक्ता विनय सिंह, अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मंत्री सोनू एजाज, दिनेश यादव, जिला महामंत्री सुभाषचंद्र सिन्हा, संदीप डंगायच, जिला मंत्री नवीन सिन्हा, रागिनी लहेरी, नगर अध्यक्ष हरमिंदर सिंह बग्गा, प्रकाश दास, संत कुमार लल्लू, रंजन सिन्हा, राजेश जयसवाल, मो इरफान समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे। वक्ताओं ने कहा कि दो दिन पूर्व पंजाब में प्रधानमंत्री के काफिले को प्रदर्शनकारियों ने रोककर उनकी सुरक्षा को तार तार किया।

जिस प्रकार से सरकार की ओर से गंभीर चूक की गई वह वाकई भारतीय लोकतांत्रिक व प्रशासनिक व्यवस्था पर कुठाराघात है। ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस शासित राज्यों में प्रशासनिक कार्य भगवान भरोसे चल रहा है। समझने की बात है कि जब देश के संवैधानिक पद पर आसीन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में भारी चूक की जा सकती है तो उस राज्य में भाजपा के आम कार्यकर्ताओं के साथ कैसा व्यवहार किया जा रहा होगा।

भाजपा कार्यकर्ताओं और नेतााओं ने गांधी के सिद्धांतों पर अमल करते हुए, उनके आदर्शों को आगे बढ़ते हुए उनकी ही प्रतिमा के समक्ष इस उम्मीद से एक दिवसीय 2 घंटे का मौन धारण किया कि कांग्रेस को इस कृत्य से सद्बुद्धि मिले और बदले की राजनीति से ऊपर उठकर लोकतांत्रिक व्यवस्था का पालन करे।

खबरें और भी हैं...