पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विरोध:पौधरोपण में वन विभाग पर अनियमितता का आरोप लगा ग्रामीणों ने बंद कराया काम

नवडीहा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पौधरोपण के लिए किए गए गड्ढे की मापी करते वार्ड सदस्य व ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
पौधरोपण के लिए किए गए गड्ढे की मापी करते वार्ड सदस्य व ग्रामीण।

जमुआ वनप्रक्षेत्र के उखरसाल गांव के चिहुंटिया जंगल जमीन खाता नंबर 38, प्लॉट 1901, रकवा 17 हेक्टेयर पर वन विभाग इस बरसात अकेसिया के जंगल लगाने की तैयारी कर रहे हैं। इसलिए उक्त जमीन पर वृक्षारोपण के लिए अभी गड्ढे और घेराबंदी के लिए ट्रेंच खोदे जा रहे हैं।

वन विभाग के कर्मी द्वारा वृक्षारोपण के लिए मजदूरों से खोदे रहे गड्ढे एवं घेराबंदी के लिए जेसीबी मशीन सेे कटवा रहे ट्रेंच में काफी अनियमितता बरती जा रही है। वृक्षारोपण का गड्ढा एक फीट गहरा व एक फीट व्यास का करना था जबकि विभाग द्वारा तीन ईंच गहरा व आठ इंच व्यास का किया जा रहा है, जो बरसात के पहले ही भर जाएगा।

ट्रेंच 6 फुट गहरा और 4 फुट चौड़ा करना है परंतु गहराई तीन फुट और चौड़ाई ढाई फीट की जा रही है। अनियमितता को देख उखरसाल के वार्ड सदस्य शंकर साव व मनोज दास के नेतृत्व में ग्रामीण सुधीर वर्मा, टूपलाल साव, कामेश्वर यादव, सुरेश यादव, बोधी दास, गोविंद साव, वृहस्पति साव सहित दर्जनों ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारी के विरोध मोर्चा खोल दिये। और विरोध करते हुए वन अधिकारी द्वारा कराए जा रहे कार्य को बंद कर दिया। वार्ड सदस्य शंकर साव, मनोज दास ने कहा कि वन विभाग के अधिकारी द्वारा गांव में बिना समिति गठन किये तथा बिना सूचना पट्ट लगाए काम करा रहे हैं।

इतना ही नहीं अधिकारी केे द्वारा पौधरोपण के लिए मजदूर से खोदवा रहेे गड्ढे एवं घेरबंदी के लिए जेसीबी मशीन से कटा रहे ट्रेंच में घोर अनियमितता बरत रही है। और लूट-खसोट कर पैसे की बंदरबाट किया जा रहा है। इस प्रकार से विभाग स्वयं सरकारी पैसे को लूटने का काम कर रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें