योग-संयोग:इस महीने 23 में से 12 दिन खरीदारी के लिए शुभ

जामताड़ा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुष्य व अमृत सिद्धि योग में ज्वेलरी-वाहन, इलेक्ट्राॅनिक्स की खरीदी लाभकारी, बाजार में लौटेगी रौनक

सावन का पवित्र महीना और उस पर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी तक कई ऐसे शुभ योग व मुहूर्त रहेंगे, जो खरीदारी के लिए समृद्धिदायी और शुभ फलकारी होंगे। हरियाली तीज से एक बार फिर त्योहारों की शुरुआत हो जाएंगी। नागपंचमी, रक्षाबंधन, हलषष्ठी, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी और गणेशोत्सव आदि पर्व की खरीदारी से बाजार में तेजी आएगी। पं. विष्णु राजौरिया ने बताया कि जन्माष्टमी तक 23 दिनों में पुष्य, अमृत सिद्धि, सर्वार्थ सिद्धि,गजकेसरी समेत करीब 12 दिन विभिन्न शुभ योग रहेंगे।

व्यापारी संघ के पदाधिकारियाें ने बताया कि राखी, गिफ्ट, वस्त्र, लड्‌डू गोपाल की प्रतिमाओं, शृंगार सामग्री सेे बाजार में उठाव आएगा। सराफा व्यवसायियों ने बताया कि शुभ योग में लोग नग और स्वर्ण आभूषण की खरीदी करते हैं।

सर्वार्थ सिद्धि योग: तिथि, वार और नक्षत्र के संयोग से यह योग बनता है। इस योग में नए अनुबंध, नए संस्थान का शुभारंभ, ज्वेलरी की खरीदी मंगलकारी होता है।

किस दिन-कौन सा योग... खरीदारी से आएगी सुख-समृद्धि

8 अगस्त सर्वार्थ सिद्धि, रवि पुष्य योग। 9 अगस्त कुमार योग। 10 को सिंघारादोज और राजयोग, स्वर्ण गौरी पूजन और रवि योग। 13 को नागपंचमी और रवि योग। 14 को सर्वार्थ सिद्धि योग। 15 को त्रिपुर योग। 16, 20 और 21 को सर्वार्थ सिद्धि योग, 22 को गज केसरी और बुधादित्य योग रहेगा।

पुष्य नक्षत्र

8 अगस्त को रवि पुष्य नक्षत्र रहेगा। यह योग स्थायित्व और समृद्धि प्रदान करने वाला होता है। इस योग में भूमि, भवन, वाहन, स्वर्ण आभूषण, रत्न, श्रीयंत्र की खरीदी और नए अनुबंध करना शुभ फलदायी होता है। संयोग से इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग भी रहेगा।

कुमार योग

यह योग 9 अगस्त को रहेगा। यह विद्या प्राप्ति और शिक्षण सामग्री की खरीदी करने के लिए अत्यंत शुभ योग होता है। इस दिन शिक्षण सामग्री खरीद कर उसे विद्या की अधिष्ठात्री देवी मां सरस्वती के समक्ष रखने के उपरांत उपयोग में लाना चाहिए।

खबरें और भी हैं...