प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी:बोदमा में वैन के धक्के से डिलेवरी ब्वॉय की मौत, मुआवजा के लिए सदर अस्पताल के पास रोड जाम

जामताड़ा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सड़क जाम के दौरान पुलिस पदाधिकारी से वार्ता करते लोग और सड़क जाम में शामिल भाजपा व अभाविप के कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
सड़क जाम के दौरान पुलिस पदाधिकारी से वार्ता करते लोग और सड़क जाम में शामिल भाजपा व अभाविप के कार्यकर्ता।
  • घर का इकलौता चिराग था सौरभ, मौत के बाद सदर अस्पताल में अभाविप व भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया जमकर हंगामा

जामताड़ा-मिहिजाम रोड पर नवनिर्मित बोदमा ओवरब्रिज पर पिकअप वैन और बाइक से आमने-सामने टक्कर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नगर सह मंत्री सौरभ दास की मौत हो गई। बताया जाता है कि वह डिलेवरी बॉय के रूप में भी काम करते थे। पार्सल का डिलीवरी करने के लिए निरसा जा रहे थे।

तभी सुबह करीब 7:00 बजे बोदमा रेलवे ओवरब्रिज पर मिहिजाम से तेज रफ्तार में आ रहा सीमेंट लदा पिकअप वैन उनके बाइक को सामने से टक्कर मार दिया। जिसमें उनके सिर और शरीर के विभिन्न भाग पर काफी गंभीर चोट लगी है। उन्हें घायल अवस्था में एंबुलेंस 108 से सदर अस्पताल ले जाया गया।

यहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इधर घटन के बाद वैन संख्या डब्ल्यूबी 37डी-0158 का चालक वैन लेकर फरार हो गया। घटना के करीब तीन घंटे बाद वाहन को पुलिस ने जब्त किया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार छात्र नेता मोटरसाइकिल से जामताड़ा से मिहिजाम की ओर जा रहे थे।

वहीं मिहिजाम से जामताड़ा की ओर पिकअप वैन जा रहा था। इसी दौरान दोनों वाहनों में बोदमा फ्लाईओवर में आमने-सामने जोरदार टक्कर हो गई। घटना के बाद मोटरसाइकिल में लदा सारा सामान रोड पर बिखर गया एवं बुरी तरह से कुचले छात्र नेता की दर्दनाक मौत हो गई।

छात्र नेता की सड़क दुर्घटना में मौत की खबर सुनते ही आक्रोशित लोग सदर अस्पताल के बाहर मुख्य सड़क को जामकर न्याय की मांग करने लगे। लोगों ने मृतक के परिजनों को उचित मुआवजा देने तथा वाहन चालक पर कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे।

इस दौरान करीब डेढ़ घंटे तक सड़क जाम रहा। प्रशासन द्वारा उचित कानूनी कार्रवाई एवं मृतक के आश्रित को मुआवजा का आश्वासन दिए जाने के बाद सड़क जाम समाप्त हुआ। घटना के बाद से ही परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। सौरव घर का एकमात्र कमाने वाला इकलौता पुत्र था।

भाजपा व अभाविप कार्यकर्ताओं ने की प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी

घटना की सूचना पाकर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता नगर पंचायत जामताड़ा के पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र मंडल, भाजपा जिलाध्यक्ष सोमनाथ सिंह जामताड़ा सदर अस्पताल पहुंचे तथा घटना की जानकारी ली। मृतक के परिजनों से मिलकर सांत्वना दिया। पुलिस प्रशासन की उदासीन रवैया को देख स्थानीय लोग, अभाविप कार्यकर्ता एवं भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए एवं जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे।

इस बीच अंचलाधिकारी व पुलिस प्रशासन सदर अस्पताल पहुंचे एवं घटना की जानकारी ली। लोग जोरदार नारे के साथ विरोध प्रदर्शन करने लगे। मामले को बढ़ता देख वीरेंद्र मंडल ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत किया व तत्काल जिला प्रशासन को घटना पर कार्रवाई करने का मांग की। मुख्यालय डीएसपी व सीओ जामताड़ा द्वारा आवश्यक कार्रवाई करते हुए मृतक परिवार को उचित मुआवजा एवं अन्य सुविधा दिलाने का भरोसा दिया तब जाकर मामला शांत हुए।

पिता को पेंशन का लाभ मिलेगा

सीओ अंचल अधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि मृतक आश्रित को पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20,000 तत्काल दिए जाएंगे। मृतक के वृद्ध पिता को पेंशन स्वीकृत किया जाएगा। इसके अलावा गाड़ी का इंश्योरेंस क्लेम की राशि भी आश्रित को दिया जाएगा। वहीं मामले की जांच कर वाहन चालक पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...