सलाह:अब भी लाेग समझदारी का परिचय नहीं देंगे तो स्थिति और भयावह हो जाएगी- उपायुक्त

जामताड़ा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संक्रमण की चेन को तोड़ना बहुत जरूरी, बिना काम के घर से बाहर नहीं निकलने की दी सलाह

उपायुक्त फैज अक अहमद मुमताज कहा कि कोविड-19 का दूसरा लहर शुरू होने के कारण संक्रमण में काफी तेजी से वृद्धि हुई है। ये दूसरे बीमारियों से अलग हैं अगर जिले वासी समझदारी का परिचय नहीं देंगे तो आने वाले दिनों में स्थिति और भयावह हो जायेगी। इसलिए जिले वासी अपने आप को 2 सप्ताह तक घरों में अपने आप को कैद कर ले ये समझे की बाहर कोरोना हैं। बहुत जरूरी है संक्रमण का चैन को तोड़ना साथ ही उपायुक्त ने कहा की बहुत जरूरी रहने पर ही कोविड 19 के गाइड लाइन को पालन करते हुए घरों से बाहर जाए। राज्य सरकार द्वारा अगले 6 मई तक जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी को प्रतिबंधित किया गया है। ऐसे में सुरक्षा के मद्देनजर हमें और अधिक सावधान और सतर्क रहने की जरूरत है।

वर्तमान दौर में थोड़ी सी भी लापरवाही बड़ी मुसीबत बन सकती है इसलिए अभी खुद को सावधान और सतर्क रखाना जरूरी है ही इसके अलावा दूसरों को भी जागरूक करना जरूरी है ताकि किसी प्रकार का संक्रमण उत्पन्न नहीं हो और खुद के साथ साथ पूरा समाज भी सुरक्षित हो। वर्तमान में देश के विभिन्न राज्यों में कोविड-19 काफी तेजी से फैल रहा है सक्रिय मरीजों की संख्या में भी काफी तेजी से इजाफा हुआ है, इसलिए बाहर राज्यों से आने वाले लोगों को आने के साथ ही कोरोना टेस्ट कराना जरूरी है क्योंकि कौन संक्रमित है या नहीं यह जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा। जांच के लिए प्रतिदिन संबंधित स्थलों में कैंप लगाया जा रहा है, ताकि लोगों को परेशानियों का सामना ना करना पड़े इसके लिए जब भी कोई व्यक्ति किसी दूसरे राज्य या अन्य जिले से आ रहे हो। घर प्रवेश करने से पहले जांच कराएं फिर अपने गांव और घर जाएं ताकि आपके साथ बाहर और समाज भी सुरक्षित रह सकें। साथ ही उपायुक्त ने जिलेवासियों से कोविड-19 के लक्षण दिखने पर जांच करवाने तथा सभी योग्य लाभार्थियों को आवश्यक तौर पर टीकाकरण हेतु जागरूक होना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...