पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

राजनीति:मुझे चुनाव जीतने दुमका नहीं जाना, जबकि सांसद को सारठ आना पड़ेगा : रणधीर

जामताड़ा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सारठ से भाजपा विधायक रणधीर सिंह ने अपनी ही पार्टी के सांसद सुनील सोरेन को आड़े हाथों लिया, कहा- दुमका सांसद के प्रति क्षेत्र के विधायकों में रोष बढ़ा
  • एक सप्ताह पूर्व जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी ने भी दुमका सांसद की कार्यशैली पर उठाया था सवाल

दुमका संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद सुनील सोरेन के प्रति संसदीय क्षेत्र के विधायकों में रोष गहराता जा रहा है। यही कारण है कि जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी के बाद अब पूर्व कृषि मंत्री सह सारठ विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक रणधीर सिंह ने भी सांसद को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि सांसद अपने कार्य क्षेत्र के विधायक को दरकिनार कर सांसद नहीं चल सकते हैं। कहा कि सांसद को उद्घाटन और शिलान्यास के शिलापट्ट पर नाम नहीं होने का मलाल है, परंतु उन्हें यह समझना चाहिए कि विधायक को दरकिनार कर सांसद नहीं चल सकते हैं। पूर्व कृषि मंत्री ने कहा कि इसमें हाय-तौबा मचाने की जरूरत नहीं है। निश्चित रूप से प्रोटोकॉल में सांसद का नाम रहेगा।

सिर्फ नाम लिखवाने से नहीं होगा, सांसद को काम भी करना होगा

रणधीर सिंह ने कहा कि सिर्फ नाम लिखवाने से नहीं होगा, काम भी करना चाहिए, जनता के बीच जाना चाहिए और काम करना चाहिए। अभी तक के कार्यकाल में सांसद द्वारा सारठ विधानसभा क्षेत्र में कोई भी काम नहीं किया गया है। उनके द्वारा केवल गुटबाजी किया जा रहा है। यह सच्चाई है, इसे कोई नकार नहीं सकता है। रणधीर सिंह ने कहा कि सांसद विधायक से सीनियर होते हैं, परंतु विधायक को दरकिनार कर सांसद नहीं चल सकते हैं।

प्रोटोकॉल और गाइडलाइन हमें पता है

पूर्व मंत्री ने कहा कि प्रोटोकॉल और गाइडलाइन हमें पता है। कहा कि सांसद ने देवघर जिला के दिशा की बैठक में भी यह बात उठाया था। जब वे 5 साल मंत्री थे तो दुमका के पूर्व सांसद शिबू सोरेन कभी भी शिलान्यास करने नहीं आते थे। वे मंत्री से कहते थे कि बेटा तुम उद्घाटन और शिलान्यास कर लो। हमेशा उनका नाम लिखा जाता था।

लॉकडाउन में योजनाएंं आई ही नहीं हैं: विधायक रणधीर सिंह ने कहा कि लॉकडाउन में योजना आया ही नहीं है। योजना आएगा तो निश्चित रूप से सांसद का नाम नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सड़क योजना में एमपी का पहले स्थान पर नाम होता है, उनके नीचे विधायक का। जबकि राज्य संपोषित योजनाओं में पहले विधायक का नाम होता है। यदि किसी योजना में मंत्री होते हैं तो सांसद के ऊपर मंत्री का नाम होता है। इसके लिए हाय तौबा मचाने की जरूरत नहीं है। विधायक रणधीर सिंह ने कहा कि चुनाव के पूर्व सुनील सोरेन फोन करते थे और उन्होंने भी तन मन धन से उन्हें जिताने का कार्य किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा भाजपा कार्यकर्ताओं के बल पर वे सांसद बने हैं। कहा कि सांसद जब क्षेत्र में आते हैं तो फोन तक नहीं करते हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए।

इस दौरान इरफान भी रहे मौजूद

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व गत सोमवार को विधायक इरफान अंसारी ने भी सांसद को नसीहत इसी बात को लेकर दिया था। मौके पर विधायक इरफान अंसारी के अलावा अन्य लोग उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि दुमका संसदीय क्षेत्र में छह विधानसभा क्षेत्र शामिल है। यह क्षेत्र जामताड़ा, नाला, सारठ, जामा, दुमका तथा शिकारीपाड़ा है। जानकारी के अनुसार लोकसभा चुनाव में सारठ विधानसभा क्षेत्र से भाजपा को काफी बढ़त मिली थी।

जनता के दिल में बसते हैं इरफान अंसारी: रणधीर

पूर्व कृषि मंत्री सह सारठ से भाजपा विधायक रणधीर सिंह ने चंद भाजपा नेताओं को दिया करारा जवाब कहा कि जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी विकास करते हैं जनता के दिलों में बसते हैं दिन रात जनता के लिए खड़े रहते हैं और उनके हित के लिए लड़ाई लड़ते हैं। इन्होंने तो अच्छा किया की योजनाओं के शिलापट में स्थानीय दुमका सांसद का नाम नहीं दिया।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें