पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध:महंगाई के खिलाफ बगोदर में माले उतरी सड़क पर

बगोदर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भाकपा माले ने सरिया रोड स्थित किसान भवन से बस स्टैंड तक प्रतिवाद मार्च निकाला

पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस, सरसों तेल और आवश्यक खाद्य पदार्थों की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी के खिलाफ वामदलों के राज्यस्तरीय प्रतिवाद के तहत बगोदर में भाकपा माले ने सरिया रोड स्थित किसान भवन से बस स्टैंड तक प्रतिवाद मार्च निकाला। बस स्टैंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका गया।

मार्च में शामिल लोग 200 रुपये सरसो तेल-मोदी सरकार गद्दी छोड़, पेट्रोल-डीजल और खाद्यान्न वस्तुओं की आसमान छूती कीमतों को वापस लो, कोरोना और मंहगाई की मार-मोदी सरकार है जिम्मेवार, कंपनियों से यारी और देश से गद्दारी नही चलेगी सरीखे नारे लगा रहे थे। कार्यक्रम का नेतृत्व बगोदर भाकपा माले विधायक विनोद कुमार सिंहकर रहे थे। माले प्रखण्ड सचिव पवन महतो,किसान सभा के प्रदेश सचिव पूरन महतो,बगोदर पश्चिमी जिला परिषद पूनम महतो,प्रखण्ड प्रमुख मुस्ताक अंसारी, इनौस राष्ट्रीय सचिव संदीप जायसवाल,पूरन कुमार महतो,प्रदीप महतो,भुनेश्वर महतो ,पूरन चंद्र महतो,हेमलाल व अन्य शामिल थे।

बस स्टैंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कार्यकताओं ने पुतला फूंका ।मौके पर आयोजित नुक्कड़ सभा को संबोधित करते बगोदर विधायक ने कहा कि आज देश की आम जनता कोरोना महामारी और मंहगाई की दोहरी मार झेल रही है।उन्होंने कहा कि हज़ारों किसान भाजपा-मोदी सरकार की किसान -विरोधी नीतियों के खिलाफ पिछले छह माह से अधिक आंदोलनरत है।

किसानों की रहनुमाई की नौटंकी की जा रही है।उन्होंने कहा कि एक तरफ लंबे समय से पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस की बेलगाम मूल्य वृद्धि से आम जनता त्रस्त है तो दूसरी तरफ सरसो तेल व अन्य खाद्य पदार्थो की कीमतें आसमान छू रही हैं। जिससे लोगों का जीना दूभर हो गया है।उन्होंने कहा कि बेतहाशा मंहगाई के जिम्मेवार मोदी-भाजपा की सरकार को सता में रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। मौके पर सुजीत शर्मा,राजू साव,इस्माईल अंसारी,ज्ञानी यादव ,दिनेश यादव,उमेश साव,बासुदेव विद्यार्थी,सहदेव महतो,शिव शंकर महतो,टाजेश बनिता दीप, पप्पू कुमार रूपेश, निर्मल कुमार, प्रेम कुमार महतो, जितेंद्र महतो, राजू कुमार महतो आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...