पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत की सांस:जिले में कोरोना के एक्टिव मामले सिर्फ 1, लेकिन तीसरी लहर का खतरा टला नहीं है, सावधान रहें...

जामताड़ा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड वार्ड का निरीक्षण करते अधिकारी। - Dainik Bhaskar
कोविड वार्ड का निरीक्षण करते अधिकारी।

जिले में कोरोना की रफ्तार कम हो गया है लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। कोरोना की तीसरी लहर की संभावना अभी भी बरकरार है। रविवार को मात्र जिले में एक पॉजिटिव मरीज है। लोगों का धैर्य और प्रशासन की तैयारी की वजह से बीते 1 माह के बाद अब जामताड़ा जिला में कोरोना वायरस की संख्या में लगातार गिरावट हो रही है।

विवार को जामताड़ा जिले में कोरोना संक्रमित एक्टिव केस मात्र एक रह गया है। जामताड़ा में लगातार घट रहे कोरोना के मामले के बाद जिला प्रशासन एवं जिला वासियों ने राहत की सांस ली है। कोरोना से बचाव को लेकर शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को लगातार जागरूक करने का काम जारी है। लाख मुश्किलों के बाद भी लोगों का धैर्य बना हुआ है ताकि जामताड़ा जिला कोरोना से मुक्त हो सके।

डॉ. दुर्गेश झा ने लोगों से अपील किया है कि कोरोना के घटते मामलों के बावजूद भी लोग सतर्क रहें। वैक्सीन जरूर लगवाएं यह पूरी तरह से सुरक्षित है। सरकार के गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करें। वैक्सीन लगवाने के बाद भी मास्क का इस्तेमाल करें सफाई का पूरा ख्याल रखें। भीड़ भाड़ में ना जाए जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकले। कोविड-19 के लक्षण सर्दी, खांसी, बुखार, बदन दर्द हो तो चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

जिला में अब तक 5550 लोग हो चुके हैं कोरोना से संक्रमित
जामताड़ा जिला में कोरोना के कुल 5550 मामले सामने आए हैं जिसमें 5549 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। अब मात्र 1 संक्रमित मामला जामताड़ा में हैं। लगातार मामलों के गिरने के बावजूद भी स्वास्थ्य महकमा थर्ड वेव की तैयारी में जुट गया है। अगर थर्डवेव आया तो उससे कैसे निपटा जाए इसके लिए प्रशासनिक तैयारी की जा रही है। कोविड-19 अस्पताल सहित विभिन्न अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की संख्या बढ़ाई जा रही है

15 अगस्त को कोरोना मुक्त हुआ था जिला, 16 को मिले थे 11 पॉजिटिव

कोरोना का संक्रमण जामताड़ा में बीते 15 अगस्त के दिन जहां जिले में कोरोना के मामले शुन्य थे जिसके एवज में लोगों ने एक दूसरे को बधाइयां दी थी वही अगले ही दिन यानी 16 अगस्त को 11 पॉजिटिव मामले सामने आने पर जिला प्रशासन सकते में आ गया था। स्वास्थ्य विभाग के मुस्तैदी की वजह से 1 महीने के भीतर मात्र एक एक्टिव मामला रह गया है। रविवार को जिले के प्रखंड क्षेत्र में शिविर लगाकर 1133 नमूना संग्रह किया गया 715 सैंपल की जांच के उपरांत 0 रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया है। अस्पताल सहित अन्य स्थानों पर शिविर लगाकर कोरोना जांच किया गया।

76604 को लग चुकी है वैक्सीन की दूसरी डोज
रविवार को जिले में 698 लोगों को वैक्सीनेट किया गया। जिले में 3,82,521 लोग अब तक वैक्सीन ले चुके हैं जिसमें प्रथम डोज लेने वालों में 3,05,917 हैं जबकि दूसरा डोज लेने वालों में 76,604 लोग शामिल हैं। जिले में विभिन्न स्थानों पर शिविर आयोजित कर वैक्सीनेशन का कार्य लगातार जारी हैं। बताया जाता है कि शुरुआती दौर में वैक्सीनेशन की रफ्तार काफी धीमी थी। लोगों को जागरूक किया गया जिसका नतीजा हुआ है कि वैक्सीन लगवाने के िलए लोगों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई। लेकिन जिले में वैक्सीन का कोटा खत्म होने के कारण कई दिनों तक टीकाकरण भी बंद रहा। वैक्सीन आने के बाद पुन: वैक्सीनेशन शुरू किया जाता था। जागरुकता का ही नतीजा है कि वैक्सीनेशन की संख्या में वृद्धि हो रही है।

खबरें और भी हैं...