पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आरोप:बलियापुर की सुरंगा बस्ती का मामला, दलित महिला काे मंदिर से निकाल देने का आराेप, दूसरे पक्ष ने नकारा

झरिया25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 4 नामजद समेत 9 पर केस, माहाैल तनावपूर्ण

बलियापुर प्रखंड की सुरूंगा बस्ती में विजयदशमी के दिन एक दलित महिला काे मंदिर में पूजा करने से राेकने का मामला सामने या है। आरोप है कि उस महिला काे धक्का-मुक्की कर मंदिर से निकाल दिया गया। महिला के परिजन भी उनके साथ थे। महिला दुलाली देवी ने गुरुवार की रात अलकडीहा ओपी में तारा देव, रामनरेश देव, सीमा देवी, सृष्टि देवी और पांच अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इसमें जातिसूचक शब्द का प्रयाेग और छेड़खानी करने का आराेप लगाया गया है। सिंदरी डीएसपी अजीत कुमार सिन्हा काे अनुसंधान का जिम्मा दिया गया है। केस दर्ज हाेने के बाद सुरूंगा में तनाव बढ़ गया है। इसे देखते हुए पुलिस ने भी गश्ती बढ़ा दी है।

विजयादशमी के दिन का है मामला, जलती अगरबत्ती फेंक दी थी बाहर
सुरूंगा के किरण रविवास की पत्नी दुलाली देवी ने पुलिस काे बताया कि विजयादशमी के दिन वे बेटे, बहू, बेटी के साथ दुर्गा मंदिर में पूजा करने गई थीं। मंदिर में अगरबत्ती जलाई ही थी कि सीमा देवी और सृष्टि देवी ने जलती हुई अगरबत्ती उखाड़कर फेंक दी और जाति सूचक शब्द कहते हुए दुलाली काे मंदिर से तत्काल निकल जाने काे कहा। हाे-हल्ला हाेने लगा और आसपास के लाेग जुट गए। फिर सीमा के पति तारा देव, सृष्टि के पति रामनरेश देव आदि ने धक्का-मुक्की कर मंदिर से बाहर कर दिया। वहीं, आराेपी तारा देव ने दूरभाष पर बातचीत में आराेपाें काे निराधार बताया। कहा कि पूजा करने से किसी काे नहीं राेका गया है। केस क्याें दर्ज कराया, यह समझ से परे है। परिवार से किसी की किसी तरह की दुश्मनी नहीं है।

जांच जारी, आराेपियाें के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी

लिखित शिकायत मिलने के बाद मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपों की पड़ताल की जा रही है। आराेपियाें के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।’’
रवींद्र शर्मा, अलकडीहा ओपी प्रभारी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें