सूचना मिलने पर पहुंचे अधिकारियों ने की बैठक:वेतन व बोनस नहीं मिलने पर सफाइकर्मियों ने नप मिहिजाम के मुख्य गेट पर कचरों से भरी गाड़ी खड़ी कर किया विरोध

मिहिजाम18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कहा- आज बैठक में लिया जाएगा सफाई कर्मियों की समस्याओं पर फैसला

पाथेया के सफाई कर्मचारियों ने बकाया वेतन, बोनस सहित अन्य सुविधाओं क मांग को लेकर गुरुवार को अनोखे तरीके से विरोध किया। सफाई कर्मियों ने सुबह गली-मोहल्लो से कचरा जमा कर गाड़ी में लोड किया और गाड़ी को नगर परिषद मिहिजाम कार्यालय के सामने खड़ी कर दिया। जिससे वहां दुर्गंध फैलने लगी।

जब इसकी सूचना सूचना मिलते ही नप अध्यक्ष कमल गुप्ता व उपाध्यक्ष शांति देवी कार्यालय पहुंची कार्यालय पहुंचते ही देखा कि कार्यालय के मुख्य द्वार के पास ही कचरों से भरी 8 गाड़ियों लगी हुई है जिससे काफी दुर्गंध आ रही है। जिसके बाद मजदूरों ने भी वहां विरोध करना शुरू कर दिया। अध्यक्ष व उपाध्यक्ष ने मजदूरों को बुलाकर वार्ता किया। जिसमें तय हुआ कि शुक्रवार को नप अध्यक्ष कमल गुप्ता, ईओ कामदेव दास, पाथेया प्रतिनिधि दीपक कुमार, सिटी मैनेजर राजेश कुमार की उपस्थिति में एक बैठक होगी।

उक्त बैठक में कर्मियों की समस्याओं व उसके निदान पर चर्चा कर फैसला लिया जाएगा। कर्मियों की मांग है कि समय पर वेतन नहीं दिया जाता है, बोनस नहीं दिया जा रहा है। प्रत्येक कचरा वाहन को हर रोज 2 टन से कम कचरा होने पर वेतन काट लिया जाता है। अभी तक कर्मियों को कोविड 19 प्रतिरोधक वैक्सीन नहीं दी गई है।

जूता, ग्लब्स, बरसाती, सैनेटाइजर, मास्क, ड्रेस आदि तक नहीं दिया जाता है। जबकि कोरोना काल में अधिकारी मास्क व सैनेटाइजर लेकर घूमते हैं और हमलोग गली-मुहल्लों में जाते लेकिन कोई सुविधा नहीं जाती है। जबकि अन्य जगहों पर कर्मचारियों को सारी सुविधाएं दी जाती है। जिसके बाद अध्यक्ष ने कर्मियों को आश्वासन दिया कि कल होने वाली बैठक में उनकी समस्याओं पर चर्चा कर समस्याओं के समाधान की पहल की जाएगी। जिसके बाद कर्मी कचरों से भरा गाड़ी लेकर काम पर लौट गए।

नपं अध्यक्ष के दिए आश्वासन के बाद काम पर लौटे कर्मचारी

नगर परिषद मिहिजाम के अंतर्गत सफाई का कार्य कर रहे पाथेया के कर्मियों ने गुरुवार को नवरात्रि के पहले दिन ही समय पर वेतन नहीं मिलने और बोनस आदि कई समस्याओं की मांगों को लेकर काम रोक दिया। इससे शहर में जहां तहां रोजमर्रा के कचरे का अंबार लगना शुरू हो गया।

कर्मियों ने कचरे ढोने वाली 8 गाड़ियों को नगर परिषद कार्यालय मिहिजाम के समक्ष खड़ी कर दी व विरोध जताया। बाद में नप के अधिकारियों द्वारा कर्मचारियों को मान मनौव्वल व आश्वासन के बाद कर्मचारी फिर काम पर लौट गए।

खबरें और भी हैं...