पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:6 करोड़ रुपए की लागत से बने 100 बेड वाले छात्रावास का 2 वर्ष बाद भी नही हुआ उद्घाटन

मुरलीपहाड़ी6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रख-रखाव के अभाव में खिड़की-दरवाजेे हाे रहे हैं बर्बाद, जिला प्रशासन नहीं देती है ध्यान

नारायणपुर प्रखंड के चैनपुर स्थित नव निर्मित 100 शैय्या वाले बालिका छात्रावास का विशाल भवन बनकर तैयार खड़ा है। इसके निर्माण किये हुए दो साल से अधिक का समय बीत गया किंतु अभी तक इस छात्रावास में पठन पाठन या रहने की व्यवस्था विभाग द्वारा नही किया गया है। जिस कारण यह छात्रावास बेकार पड़ा-पड़ा भूत बंगला बनने लगा है। जानकार सूत्रों के मुताबिक छात्रावास का निर्माण कार्य कल्याण विभाग के द्वारा साढ़े 6 करोड़ की लागत से किया गया था। किंतु आज तक इस दिशा में विभाग पहल नही की जा रही है। जिस कारण यह धीरे धीरे अपने अस्तित्व को खोने की कगार में पहुंचने लगा है। जो जांच का विषय है।

चैनपुर के ग्रामीणों ने इस संबंध में बताया कि यह छात्रावास एसटी-एससी वर्ग की बालिकाओं के लिए बनवाया गया है। किंतु आज तक इसका उद्घाटन नही किया जा सका है जो निश्चित रूप से सरकार की बड़ी राशि का दुरुपयोग है। जबकि इस छात्रावास के बने हुए 2 वर्ष से अधिक का समय बीत चुका है। छात्रावास के सभी कमरे अभी तक यूं ही पड़े हुए हैं। अब तो आलम यह है की इसके दरवाजे खिड़की आदि समय के साथ बर्बाद होने लगा है। ऐसा ना हो की देखरेख के अभाव में यह विशाल भवन जो करोड़ों की राशि से यहाँ बना दी गई है। वह खंडहर बनकर न रह जाए। ग्रामीण रवि दत्ता, गोविंद चौबे , दिलीप दत्ता, मो शाहिद आदि ने विभाग से इस दिशा में सकारात्मक पहल करने की मांग करते हुए कहा कि जिस उद्देश्य की पूर्ति के लिए यह विशाल भवन करोड़ों रुपये की लागत से बनाया गया है। वह वर्तमान समय मे महज एक शोभा की वस्तु बनकर रह गया है। स्थानीय लोग अब इस भवन को महज शोभा की वस्तु समझने लगे है।

खबरें और भी हैं...