पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

3 नक्सली गिरफ्तार:आईईडी ब्लास्ट और गाड़ियों को जलाने में शामिल थे; कोहकामेटा, किहकाड़ और गौरदंड से पकड़े गए तीनों आरोपी नक्सली

नारायणपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • उसको गिरफ्तार कर शनिवार को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया

पुलिस द्वारा चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के क्रम में डीआरजी नारायणपुर की पुलिस पार्टी द्वारा कोहकामेटा, किहकाड़ की नक्सल गश्त सर्चिंग के दौरान नक्सल अपराध के नामजद आरोपियों को तलब किया गया था। जिनके शुक्रवार को नारायणपुर आने पर को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर अपना नाम गणेश राम नुरेटी, लखमू राम नुरेटी बताया।

आरोपियों ने 5 मई को कोहकामेटा थाना क्षेत्र के कोहकामेटा व किहकाड़ के मध्य तालाब व नाला के पास पुलिस पार्टी पर आईईडी विस्फोट की घटना जिसमें आईटीबीपी का 1 जवान शहीद हो गया था तथा 30 जनवरी को मुरनार व बेचा के मध्य कुकुर नंदी में रोड़ निर्माण कार्य में लगे पोकलेन मशीन में आगजनी की घटना में शामिल होना स्वीकार किया। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया। गणेशराम नुरेटी एवं लखमूराम नुरेटी के विरूद्व एसपी नारायणपुर द्वारा 10-10 हजार का ईनाम घोषित किया गया था।

इधर गौरदंड में एक नक्सली गिरफ्तार
इधर थाना छोटेडोंगर से गुरुवार को जिला बल एवं आईटीबीपी की पुलिस पार्टी ग्राम गौरदण्ड की ओर नक्सल गश्त सर्चिंग पर निकली थी। मुखबिर की सूचना पर ग्राम गौरदण्ड में घेराबंदी कर रहे थे कि एक व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने लगा जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया। पूछताछ करने पर उसने अपना नाम बलराम कोर्राम उर्फ बलिराम कोर्राम बताया। उसने 17 मार्च को कड़ेमेटा व कड़ेनार मार्ग बेचा मोड़ के पास बम विस्फोट की घटना में शामिल होना स्वीकार किया। जिसके बाद उसको गिरफ्तार कर शनिवार को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।

खबरें और भी हैं...