• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • 225 Hoardings Illegal In The City, Due To The Silence Of The Responsibilities, The Loss Of 62 Lakhs To The Municipal Corporation Every Year

नगर निगम की जांच में खुलासा:शहर में 225 होर्डिंग्स अवैध, जिम्मेवारों की चुप्पी से नगर निगम को हर साल ‌‌62 लाख का नुकसान

धनबाद5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • मुख्य सड़कों के डिवाइडर से लेकर निजी घरों की छतों पर भी लगा दी गई हैं होर्डिंग्स

शहरी क्षेत्र में लगी 225 अवैध होर्डिंग्स नगर निगम को मुंह चिढ़ा रही हैं। ये होर्डिंग्स ने शहर की सूरत भी बिगाड़ रखी हैं। जिन स्थानों पर हाेर्डिंग्स नहीं लगनी चाहिए, वहां भी लगा दी गई हैं। मुख्य सड़क से लेकर मुहल्ले के नुक्कड़ तक काे हाेर्डिंग्स से पाट दिया गया है और जिम्मेवार चुप हैं। जिम्मेवाराें की चुप्पी का ही परिणाम है कि शहरी क्षेत्र में 225 अवैध हाेर्डिग्स लगाकर विज्ञापन कंपनियां कमा रही है।

इन अवैध हाेर्डिग्स के कारण निगम काे प्रति वर्ष 62 लाख रुपए राजस्व का नुकसान हाे रहा है। यह खुलासा नगर निगम की जांच में ही हुआ है। शहर में एग्रीमेंट की अनदेखी कर हाेर्डिंग्स लगाने की शिकायत पर नगर आयुक्त सत्येंद्र कुमार ने एक जांच टीम गठित कर सभी हाेर्डिंग की जांच करने का निर्देश दिया था। जांच टीम ने गुरुवार काे अपनी रिपाेर्ट नगर आयुक्त काे साैप दी है।

एक की जगह दाेनाें साइड लगा दिए विज्ञापन

जांच टीम ने अपनी रिपाेर्ट में खुलासा किया कि विज्ञापन एजेसिंयाें ने एग्रीमेंट की अनदेखी कर हाेर्डिंग्स लगाई हैं। कंपनी के साथ एग्रीमेंट हाेर्डिंग्स में एक साइड ही विज्ञापन लगाने का है, लेकिन सभी कंपनियाें ने डबल फेस विज्ञापन लगाया है। डबल फेस विज्ञापन अधिकतर यूनिपाेल में ही किया गया है। गाेल बिल्डिंग से लेकर बैंकमाेड़, मटकुरिया तक ऐसे दर्जनाें यूनिपाेल सड़क के एक किनारे सीमेंटेड पाेलों पर लगाए गए हैं। निगम की माने ताे यूनिपाेल में एक साइड ही विज्ञापन लगाना है, लेकिन एजेंसियाें ने दाेनाें साइड विज्ञापन लगा रखा है।ऐसे विज्ञापनों की संख्या 200 है। वहीं 25 हाेर्डिंग्स घराें की छताें पर ऐसी हाेर्डिग्स लगाई गई हैं। इसके लिए निगम से अनुमति नहीं ली गई है।

4000 हार्डिंग्स का एग्रीमेंट, इसकी आड़ में गोरखधंधा

शहर में हाेर्डिंग्स लगाने के लिए 15 की संख्या में विज्ञापन एजेंसियाें ने रजिस्ट्रेशन करा रखा है। इनमें पांच से सात कंपनी ताे दस साल से शहर में हाेर्डिंग्स लगा रही हैं। निगम के अनुसार एग्रीमेंट के अनुसार पूरे निगम क्षेत्र में कुल 4000 हाेर्डिंग्स लगी हुई हैं। इनमें बड़ी हाेर्डिंग्स से लेकर यूनिपाेल और पाेल क्याेसर शामिल हैं। जांच रिपाेर्ट में बताया गया है कि इन्हीं हाेर्डिंग्स की आड़ में एजेंसियाें ने अवैध हाेर्डिंग्स और यूनिपाेल लगा दिए गए हैं।

एजेंसियों काे किया जाएगा ब्लैकलिस्टेड

शहर में लगीं हाेर्डिंग्स की जांच रिपाेर्ट मिल चुकी है। 200 से अधिक हाेर्डिग्स काे जांच टीम ने अवैध घाेषित किया है। सभी से बकाया राशि के साथ एक्ट के अनुसार 100 फीसदी जुर्माना वसूल किया जाएगा। दाेषी सभी एजेंसियाें काे ब्लैकलिस्टेड भी किया जाएगा।''

सत्येंद्र कुमार, नगर आयुक्त

खबरें और भी हैं...