पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेरोजगारी की भरमार:3 पीएचडी, 2081 पीजी, 17974 स्नातक सहित 54,819 काे नाैकरी की तलाश

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एेसे बढ़े बेराेजगार... - Dainik Bhaskar
एेसे बढ़े बेराेजगार...
  • जनवरी 2020 से जून 2021 तक धनबाद के 3 नियोजनालयों में 38011 बेराेजगारों का रजिस्ट्रेशन, इनमें सबसे ज्यादा ग्रेजुएट

काेराेनाकाल में राेजगार इस कदर खत्म हुआ कि अब नाैकरी मांगने वालाें में 2081 पीजी और 17974 स्नातक ही नहीं, डाॅक्टरेट (पीएचडी) कर चुके 3 लाेग भी लाइन में खड़े हाे चुके हैं। कोरोना का संक्रमण फैलने के पहले धनबाद जिले के नियाेजनालयों में 2019 में 8046 बेरोजगारों ने रोजगार पाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था, पर कोरोनाकाल के दौरान नौकरी पाने के लिए नियोजनालयों में बेरोजगारों की फौज खड़ी हो गई है।

इन 18 महीने यानी जनवरी 2020 से जून 2021 तक 38011 बेराेजगारों ने नियाेजनालयों में नौकरी के लिए रजिस्ट्रेशन कराया। इनमें 25629 पुरुष हैं तो 12383 महिलाएं। 2019 के मुकाबले 2021 में जून तक धनबाद के नियोजनालयों में बेरोजगारों की संख्या 581.31% बढ़ गई है। 2020 में 36,814 बेरोजगारों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। जनवरी 2020 से जून 2021 में सबसे ज्यादा 14336 स्नातक पास और इसके बाद 12वीं पास 11787 को जॉब की तलाश है। वर्तमान में 54,819 बेराेजगार अवर प्रादेशिक नियाेजनालय धनबाद, सिंदरी व कुमारधुबी में निबंधित हैं।

ये भी कारण

  • 2020 के जनवरी-फरवरी में निबंधन शिविर लगाए गए थे।
  • बेरोजगारी भत्ते को लेकर बड़ी संख्या में निबंधन
  • लॉकडाउन में सुविधा होने के कारण करीब 80% रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन हुए।

मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना का लाभ जल्द मिलेगा। आईटीआई, पॉलिटेक्निक सहित अन्य संस्थानों में प्रशिक्षण प्राप्त निबंधितों को भी लाभ मिलेगा।

अक्षय कुमार सिंह, सहायक निदेशक, नियोजनालय, धनबाद

खबरें और भी हैं...