पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

चोरों ने बोला धावा:शशिदेव सिंह की हत्या में जेल में बंद काशीनाथ के घर 60 लाख की चोरी

धनबाद24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
काशीनाथ चौधरी के आवास में यूं बिखरे पड़े थे सामान।
  • शशिदेव की हत्या के बाद से बंद था आवास, बड़ा बेटा पुलिस के साथ पहुंचा तो चोरी का हुआ खुलासा
  • छह कमराें के ताले ताेड़ चाेरी की घटना काे दिया अंजाम, ताेड़फाेड़ भी की
Advertisement
Advertisement

भुईफाेड़ मंदिर के पास स्थित सीएमपीएफ कॉलाेनी में रिटायर्ड रेल चालक काशीनाथ चाैधरी के आवास से चाेराें ने 50 हजार नकदी सहित 60 लाख के जेवरात की चाेरी कर ली। चोर 30 लाख के एफडी के कागजात भी ले गए। काशीनाथ चाैधरी पड़ाेस के शशिदेव सिंह की हत्या के जुर्म में पत्नी, बेटा और बहू के साथ धनबाद जेल में बंद है। मंगलवार काे उसका बड़ा बेटा मंजीत कुमार अपनी पत्नी काे लेकर सरायढेला पुलिस के साथ वाहन लेने अपने आवास पहुंचा था।

आवास में घुसते ही पत्नी रजनी देवी ने देखा कि मेनगेट के अंदर कमरे का ताला टूटा हुआ है। पुलिस के साथ घर में प्रवेश किया ताे पाया कि ग्राउंड फ्लाेर में तीन और प्रथम तल पर तीन कमराें के ताले टूटे हुए हैं। सभी कमराें में सामान बिखरा पड़े हैं। कमरे के अंदर रखा अलमीरा, दीवान व बाॅक्स आदि खुले हुए हैं। चाेरी के दाैरान ताेड़फाेड़ भी की गई। शशिदेव की हत्या के बाद से ही काशीनाथ का आवास बंद था।

मंजित के मुताबिक इन सामानाें की हुई चाेरी

30 लाख एफडी के कागजात, 10 लाख की सीताहार, 10 पीस चूडी 10 लाख, साेने की चार चेन, चार साेना लाॅकेट, साेने की 15 अंगूठी, तीन हंसुली, 2 कमरधनी, 4 मांगटीका, 4 नथिया, मंगलसूत्र दाे लाख का, 3 सेट नेकलेस, साेने का 1 डाड़ा, 3 सेट चांदी की बर्तन , 10 जाेड़ी कान की बाली, 2 जाेड़े हाथ के छल्ले, 2 जाेड़ा साेने का बाजूबंद, 2 कृष्णा चूड़ी, चार जाेड़ी चांदी की पाजेब, 15 जाेड़ी पायल, साेने की 8 जेंट्स अंगूठी व 20 पीस बिछिया।

दिल्ली से लाैटने के बाद किराए पर रह रहा है बेटा

काशीनाथ का बेटा मंजीत कुमार दिल्ली में रहता है। छह जुलाई काे वह वापस धनबाद लाैटा था। वह घर जाना चाहता था लेकिन पुलिस ने सुरक्षा के लिहाज से जाने नहीं दिया। मंजीत किराये पर रह रहा है। उसे वाहन की आवश्यकता थी। पुलिस के साथ गाड़ी लेने घर पहुंचा तो चोरी का खुलासा हुआ। 

घटना के बाद घर पर पुलिस की थी तैनाती

हत्याकांड के बाद काशीनाथ व उनकी पत्नी, बहू, बेटा के जेल जाने के बाद पुलिस के देखरेख में थी। काेई अनहाेनी घटना ना हाे, पुलिस इसकाे लेकर पुलिस घर की निगरानी कर रही थी। कुछ दिन बाद पुलिस काे हटा लिया गया था। चाेरी कब हुई, इसका पता नहीं चल पाया है लेकिन चाेरी की इस घटना से पुलिस की सक्रियता पर भी सवाल खड़ा कर दिए हैं।

10 जून काे हुई थी गाेलीबारी की घटना

बता दें कि सीएमपीएफ कॉलाेनी में 10 जून की शाम नाली विवाद में गाेलीबारी की घटना हुई थी। आराेप है कि काशीनाथ ने अपनी लाइसेंसी राइफल से रविदेव और शशिदेव काे गाेली मार दी थी। घटना में शशिदेव की माैत हाे गई थी। रविदेव काे गंभीर अवस्था में दुर्गापुर मिशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

चाेरी की घटना हुई है। फिंगर एक्सपर्ट से फिंगर प्रिंट्स लिए हैं। चाेरी कब और कैसे हुई, इसकी जांच की जा रही है।”
मुकेश कुमार, डीएसपी लाॅ एंड ऑर्डर

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement