प्रबंधन 10% एमजीबी और ट्रेड यूनियनें 30% पर अड़ी:कोलकर्मियों के वेतन समझौते के लिए जेबीसीसीआई-11 की 7वीं बैठक आज

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काेयला कर्मियाें के वेतन समझाैते के लिए गठित जेबीसीसीआई-11 की 7वीं बैठक बुधवार काे दिन के 11 बजे से काेल इंडिया के मुख्यालय काेलकाता में हाेगी। अब तक की 6 बैठकें बेनतीजा रही है। मिनिमम गारंटीज बेनिफिट (एमजीबी) के मुद्दे पर काेल इंडिया प्रबंधन और ट्रेड यूनियनाें के बीच जिच कायम है।

ट्रेड यूनियनाें एचएमएस, बीएमएस, एटक और सीटू के संयुक्त माेर्चा ने 50% एमजीबी की मांग का पत्र प्रबंधन काे साैंपा था। 6 बैठकाें के बाद प्रबंधन 10 और यूनियनें 30% एमजीबी तक आई थीं। एचएमएस के नाथू लाल पांडेय ने उम्मीद जताई कि बुधवार की बैठक में सम्मानजनक समझाैते की ओर बात बढ़ सकती है।

बैठक में शामिल हाेने के लिए जेबीसीसीआई के अधिकतर सदस्य मंगलवार देर रात काेलकाता पहुंच गए। कुछ बुधवार सुबह पहुंचेंगे। बैठक शुरू हाेने के पहले यूनियनाें के नेता आपस में भी बैठक करेंगे।

2.62 लाख कर्मियाें का वेतन रिवीजन डेढ़ साल से लंबित

गाैरतलब है कि जेबीसीसीआई-10 की मियाद डेढ़ साल पहले ही खत्म हाे चुकी है। तब से करीब 2.62 लाख काेयलाकर्मियाें का वेतन रिवीजन लंबित है। इस संबंध में सीटू से जेबीसीसीआई के सदस्य डीडी रामानंदन का कहना है कि अब सब कुछ अधिकारियाें के रुख पर निर्भर है।

उन्हाेंने आशंका जताई कि डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक इंटरप्राइजेज की गाइडलाइन काे प्रबंधन फिर से ढाल बना सकता है। कोल इंडिया के निदेशक (कार्मिक एवं औद्योगिक संबंध) विनय रंजन ने कोयला मंत्रालय को पत्र लिखकर दिशा-निर्देश मांगा है।

खबरें और भी हैं...