पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • ACB Apprehended By Trainee Darega, Taking 50 Thousand Bribe, Asking For 2.5 Lakh Rupees For Removal Of Name From Coal Smuggling Case

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिकायत:प्रशिक्षु दाराेगा काे एसीबी ने 50 हजार घूस लेते पकड़ा, कोयला तस्करी केस से नाम हटाने के लिए मांग रहा था ढाई लाख रुपए

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • झरिया निवासी विहिप नेता रमेश पांडेय ने इसकी शिकायत दो दिनाें पूर्व धनबाद एसीबी से की थी

काेयला तस्करी के केस से नाम हटाने के एवज में गाेविंदपुर थाने के प्रशिक्षु दाराेगा (पीएसआई) मुनेश कुमार तिवारी काे गुरुवार काे एसीबी की टीम ने 50 हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। प्रशिक्षु दारोगा मुनेश ने केस में आरोपित पक्ष से नाम हटाने के लिए ढाई लाख रुपए घूस की मांग की थी।

झरिया निवासी विहिप नेता रमेश पांडेय ने इसकी शिकायत दो दिनाें पूर्व धनबाद एसीबी से की थी। शिकायत के बाद एसीबी की टीम ने पहले पूरे मामले का सत्यापन किया। इसके बाद एसीबी की टीम ने गोविंदपुर थाने के सामने चाय दुकान से घूस लेते रंगेहाथ पकड़ा। एसीबी आरोपी प्रशिक्षु दारोगा से पूछताछ कर रही है।

थाने के सामने चाय दुकान में रुपए लेते दबोचा गया
कोयला तस्करी के एक केस से नाम हटाने काे लेकर प्रशिक्षु दारोगा मुनेश कुमार तिवारी झरिया निवासी रमेश पांडे के भाई गणेश पांडेय से ढाई लाख रुपए घूस मांग रहा था। रमेश के दो भाई गणेश पांडे तथा मंटू पांडे समेत अन्य आरोपिताें के खिलाफ 11 नवंबर 2020 को गोविंदपुर थाने में अवैध रूप से कोल डिपो चलाने की प्राथमिकी दर्ज की गई थी। केस का आईओ मुनेश कुमारी तिवारी काे बनाया गया था। इसी मामले से नाम हटाने के लिए प्रशिक्षु दारोगा ने ढाई लाख रुपए घूस मांग रहा था। दारोगा ने रमेश पांडेय को पैसे नहीं देने पर केस काे सत्य बताने की चेतावनी भी दी थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser