पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ग्रहण:19 साल बाद सबसे बड़े दिन पर कल सुबह 10:30 बजे से दाेपहर 2:04 बजे तक लगेगा वलयाकार सूर्य ग्रहण

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चूड़ामणि याेग और मृगशिरा नक्षत्र में लग रहा सूर्य ग्रहण कई राशियाें वाले के लिए शुभ फरवरी 2021 में ग्रहों की गति के मुताबिक कुछ अशांति की आशंका फिर बन रही है
Advertisement
Advertisement

साल के सबसे बड़े दिन 21 जून काे आषाढ़ अमावस्या पर लगनेवाला वलयाकार सूर्यग्रहण 3:34 घंटे तक अाकाश में दिखेगा। 19 साल पहले भी साल के सबसे बड़े दिन 21 जून काे ऐसा ही सूर्य ग्रहण लगा था। ज्याेतिष विज्ञान और विभिन्न हिंदू पंचांगाें के अनुसार रविवार के ग्रहण का स्पर्श दिन के 10:30 बजे हाेगा। दाेपहर 12:18 बजे इसका मध्य काल हाेगा। सूर्य ग्रहण दाेपहर 2:04 बजे समाप्त हाे जाएगा। पंडित सुधीर पाठक का कहना है कि शास्त्राें के मुताबिक, सूर्य ग्रहण के 12 घंटे और चंद्र ग्रहण के 9 घंटे पहले सूतक लग जाता है। यानी सूतक शनिवार रात 10:30 बजे से ही लग जाएगा। तब तक सभी मंदिराें के पट एेसे भी बंद ही हाे जाते हैं। रविवार काे भी मंदिराें के पट नहीं खुलेंगे। सूर्य ग्रहण की समाप्ति के बाद पूजा-पाठ अाैर अन्य शुभ कार्य हाे सकेंगे।

बच्चाें, वृद्धाें और राेगियाें के भाेजन करने पर राेक नहीं
रमेश चंद्र त्रिपाठी और सुधीर पाठक कहते हैं कि शास्त्राें में बच्चाें, वृद्ध और राेगियाें काे ग्रहण काल किसी जरूरी चीज से वर्जित रखने से मना किया गया है। ऐसे में भाेजन अगर ग्रहण के स्पर्शकाल से पहले बना लिया जाए और उसे कांसे के बर्तन में रखकर उसमें तुलसी पत्ता तथा कुश रख दिया जाए, ताे बच्चाें, वृद्धाें तथा राेगियाें काे खिलाने में काेई हर्ज नहीं है। युवाओं और निराेगियाें काे ग्रहण काल में भाेजन नहीं करना चाहिए।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement