डायरिया नियंत्रण:पांड्रा के बागती के बाद अब बाउरी टाेला में डायरिया का प्रकाेप, 2 लाेगाें की माैत

धनबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इलाज कराते मरीज की फाइल फोटों - Dainik Bhaskar
इलाज कराते मरीज की फाइल फोटों
  • 13 दिनाें में 5 की माैत के बाद दहशत, सीएचसी प्रभारी ने लिया जायजा

निरसा प्रखंड के पांड्रा गांव के बागती टोला में डायरिया नियंत्रण के बाद अब दूसरे टोले में इसका प्रभाव देखने को मिल रहा है। रविवार को पांड्रा गांव के बाउरी टोला निवासी 58 वर्षीय निताई बाउरी को उल्टी व दस्त के बाद उसे एसएनएमएमसीएच धनबाद में भर्ती कराया गया था। इलाज के दाैरान शाम काे उसकी मौत हो गई। वहीं, बागती टोला निवासी 25 वर्षीय निरंजन थानदार 23 अक्टूबर को डायरिया हाेने के बाद धनबाद एसएनएमएमसीएच में भर्ती कराया गया था। 27 अक्टूबर को इलाज के बाद घर वापस लौटे थे, लेकिन शनिवार की देर रात अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई और खून की उल्टी और सांस लेने के तकलीफ बाद मौत हो गई।

19 अक्टूबर से डायरिया के कारण अब तक 4 लोगों के साथ-साथ एक नवजात बच्चे की मौत हो चुकी है। इससे ग्रामीणों में दहशत है। सूचना पर निरसा बीडीओ विकास कुमार राय व निरसा सीएचसी प्रभारी डॉ रोहित गौतम स्वास्थ्य कर्मियों के साथ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। लोगों को डायरिया से बचाव को लेकर साफ-सफाई और उबले पानी का इस्तेमाल करने की नसीहत दी। साथ ही जलसहिया और स्वास्थ्य सहिया को बाउरी टोला व बागती टोला के सड़काें, नालियाें व जलजमाव क्षेत्र का साफ-सफाई के साथ ब्लीचिंग पाउडर छिड़काव का निर्देश दिया गया।

डायरिया का इलाज करा घर लौटे, तीसरे दिन हुई मौत

परिजनों ने बताया कि बागती टोला निवासी 25 वर्षीय निरंजन थानदार डायरिया से ग्रसित हुए थे। 23 अक्टूबर को चिकित्सकों ने एसएनएमएमसीएच धनबाद में भर्ती कराया था। 27 अक्टूबर को इलाज के बाद घर वापस लौटे थे। लेकिन डायरिया के कारण उसका शरीर काफी कमजोर हो चुका था। शनिवार की रात उसे खून की उल्टी व सांस लेने में तकलीफ के बाद उसकी मौत हो गई। 19 अक्टूबर मंगलवार की रात से निरसा के पांड्रा गांव के बागती टोला में डायरिया का प्रकोप दिखने लगा।

13 दिनों में कुल 70 डायरिया के मरीज सामने आए। 22 अक्टूबर शुक्रवार को बागती टोला निवासी 40 वर्षीय संजय मंडल और 35 वर्षीय बच्चु राय की मौत डायरिया से हो गई। 24 अक्टूबर रविवार को बागती टोला निवासी डायरिया पीड़ित 42 वर्षीय गर्भवती चंदना थानदार के नवजात बच्चे की मौत प्रसव के दौरान धनबाद में हो गया। वहीं शनिवार की रात 25 वर्षीय निरंजन थानदार और रविवार की संध्या 58 वर्षीय निताई बाउरी की भी मौत हो गई। 13 दिनों के अंदर 5 लोगों की मौत के बाद पूरे गांव में डायरिया को लेकर दहशत व्याप्त है।

खबरें और भी हैं...