मिलेगी वायु गुणवत्ता की जानकारी:सिंफर लगाएगा एंबिएंट एयर क्वालिटी माॅनिटरिंग स्टेशन, इससे पता चलेगा, हवा में कितना प्रदूषण

धनबादएक महीने पहलेलेखक: रवि मिश्रा
  • कॉपी लिंक
  • संस्थान के डिगवाडीह परिसर में भी लगाया जाएगा सीएएक्यूएमएस
  • 8 पैरामीटर पर मिलेगी वायु गुणवत्ता की जानकारी, हर पल बताता रहेगा प्रदूषण स्तर
  • उपकरणों की टेस्टिंग सफल, सिंफर के बरटांड़ स्थित मेनगेट पर लगेगा डिस्प्ले बोर्ड

हवा में कितना प्रदूषण है, इसकी जानकारी जल्द ही शहर के लाेगाें काे 24 घंटे मिलने लगेगी। सीएसआईआर-सिंफर, धनबाद जल्द अपने बरटांड़ गेट पर कंटीन्यूअस एंबिएंट एयर क्वालिटी माॅनिटरिंग सिस्टम (सीएएक्यूएमएस) लगाएगा। इसका डिस्प्ले सड़क की ओर लगाया जाएगा, ताकि आम लाेगाें काे भी वायु गुणवत्ता का पता चलता रहे। यह सिस्टम 8 पैरामीटर पर हवा में प्रदूषण के स्तर की जानकारी देता रहेगा। इसकाे लेकर संस्थान ने पहले ही उपकरणाें की व्यवस्था कर ली थी।

इसके बाद से उपकरणाें की टेस्टिंग की जा रही थी, ताकि सभी पैरामीटर पर बिल्कुल सटीक जानकारी मिल सके। यह टेस्टिंग पूरी हाे चुकी है। टेस्टिंग सफल रही। अब जल्द ही इसे संस्थान के बरटांड़ गेट के डाकघर के निकट लगाया जाएगा।

वैज्ञानिक डाॅ सिद्धार्थ सिंह ने बताया कि कंटीन्यूअस एंबिएंट एयर क्वालिटी माॅनिटरिंग सिस्टम से हर पल प्रदूषण के स्तर की जानकारी मिलेगी। अगले चरण में संस्थान के डिगवाडीह परिसर में भी सीएएक्यूएमएस लगाया जा सकता है। उससे डिगवाडीह में प्रदूषण के स्तर की जानकारी मिल सकेगी।

उपकरणों के जरिए रियल टाइम माॅनिटरिंग संभव
सिंफर वैज्ञानिक डाॅ सिद्धार्थ सिंह ने बताया कि बिना उपर्युक्त उपकरणाें के हवा की रियल टाइम माॅनिटरिंग संभव नहीं है। वायु पर शाेध के लिए हवा के तमाम पैरामीटर के आंकड़े जरूरी हाेते हैं। इसी उद्देश्य से संस्थान द्वारा यह सीएएक्यूएमएस लगाया जा रहा है। इसका लाभ आम लाेगाें काे भी मिल सके, इसलिए सिंफर के मेन गेट के निकट इसे इंस्टाॅल किया जाएगा।

इन पैरामीटर पर मिलेगी जानकारी : संस्थान द्वारा लगाए जा रहे सीएएक्यूएमएस से धूलकण और गैस के दाे-दाे पैरामीटर, तापमान और आर्द्रता की जानकारी मिलेगी। इस तरह धूलकणाें के लिए पीएम 10 और पीएम 2.5 की जानकारी मिलेगी। गैस के ताैर पर सल्फर डाई-ऑक्साइड (एसओटू ) और नाइट्रोजन डाई-ऑक्साइड (एनओटू) की जानकारी मिलेगी। हवा की दिशा और गति का भी पता चल पाएगा।

जरूरत के अनुसार बढ़ा सकते हैं पैरामीटर
सीएएक्यूएमएस में जरूरत के अनुसार पैरामीटर बढ़ाया जा सकता है। हालांकि डिस्प्ले में सभी पैरामीटर नहीं दिख पाएंगे। सांस लेने के लिए हवा में पीएम10 की अधिकतम सीमा 100 माइक्राेग्राम प्रति क्यूबिक मीटर और 2.5 की अधिकतम सीमा 60 हाेनी चाहिए, लेकिन शहर की हवा में इसकी मात्रा तय सीमा से काफी अधिक रहती है। इसी तरह एसओटू की सीमा 80 और एनओटू की भी अधिकतम सीमा 80 निर्धारित है।

खबरें और भी हैं...