जलापूर्ति व्यवस्था बाधित:जलापूर्ति रोके बगैर होगी बैंक मोड़ फ्लाईओवर की मरम्मत

धनबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भुवनेश्वर की सुबुद्धि कंसल्टेंट आज रांची में सौंपेगी फाइनल रिपाेर्ट
  • कंपनी का सुझावहमारे टिप्स पर मेंटनेंस हुआ तो 25 साल बढ़ जाएगी फ्लाईओवर की उम्र

शहर और आसपास के क्षेत्रों में बिना जलापूर्ति व्यवस्था बाधित किए हुए भी बैंक माेड़ फ्लाईओवर का मेंटेनेंस संभव होगा। फ्लाईओवर की फिजिबिलिटी सर्वे करने वाली भुवनेश्वर की सुबुद्धि कंसल्टेंट कंपनी ने फाइनल रिपाेर्ट तैयार कर ली है। सुबुद्धि कंसलटेंट के असिस्टेंट प्राेजेक्ट मैनेजर विद्याधर पांड्या का कहना है कि शहरी जलापूर्ति व्यवस्था काे बिना बाधित किए हुए भी फ्लाईओवर का मेंटनेंस किया जा सकता है।

100 एमएम स्टैंडपाेस्ट पर मेन राइजिंग पाइप काे शिफ्ट कर फ्लाईओवर का मेंटेनेंस करने की प्लानिंग है। इस व्यवस्था से जलापूर्ति व्यवस्था चलती रहेगी और ओवरब्रिज का मेंटनेंस भी चलता रहेगा।

उन्होंने बताया कि पथ निर्माण विभाग के प्लानिंग डिवीजन रांची काे एक सर्वे रिपाेर्ट पहले भी भेजी गई है। फाइनल रिपाेर्ट साेमवार काे साैंप दी जाएगी। इसके बाद आरसीडी प्लानिंग डिवीजन के साथ कंपनी की टेक्निकल टीम की बैठक हाेगी। ओवरब्रिज 49 साल पुराना हाे गया है। अगर सही से मेंटनेंस कर दिया गया ताे ओवरब्रिज की लाइफ 25 साल तक बढ़ जाएगी। मेंटनेंस पर 14-15 कराेड़ रुपए खर्च का अनुमान है।

आरसीडी व सुबुद्धि के बीच इसी सप्ताह बैठक संभव
असिस्टेंट प्राेजेक्ट मैनेजर पांड्या कहना है कि आरसीडी प्लानिंग डिवीजन और सुबुद्धि कंसल्टेंट की टेक्निकल टीम के बीच इसी सप्ताह बैठक हाेने की उम्मीद है, जिसमें प्रजेंटेशन के माध्यम से फ्लाईओवर की सर्वे रिपाेर्ट और मेंटनेंस पर बिंदुवार विस्तार से चर्चा हाेगी। रिपाेर्ट में कंपनी ने मेंटनेंस काे लेकर कई सुझाव भी दिए हैं।

फ्लाईओवर के मेंटनेस के 4 फाेकस प्वाइंट
1. फ्लाईओवर की सभी 180 बेयरिंग काे बदला जाए

फ्लाईओवर में 180 बेयरिंग लगी हुई हैं। मेंटेनेंस नहीं हाेने और बारिश की वजह से पुल के सभी बेयरिंग खराब हाे गईं है। इन्हें तुरंत बदलने की आवश्यकता है।

2. पिलर और एक्सपेंशन ज्वाइंट की ग्राेइंग फाइलिंग खतरनाक

पिलर और ओवरब्रिज के बीच के एक्सपेंशन ज्वाइंट की फाइलिंग भी अत्यंत आवश्यक है। ओवरब्रिज काे 1 फीट स्टैंड पर खड़ाकर सीमेंट व कंक्रीट मिलाकर ग्राेइंग फाइलिंग करनी हाेगी।

3. फुटपाथ जर्जर है, ताेड़कर बनाने की आवश्यकता

फ्लाईओवर का दाेनाें साइड के फुटपाथ और रेलिंग जर्जर है। मेंटनेंस के दाैरान दाेनाें साइट की फुटपाथ व रेलिंग टूट जाएगी। इस वजह से दाेनाें साइड फुटपाथ और रेलिंग फिर से बनानी पड़ेगी।

ओवर ब्रिज पर 20-25 एमएम डिटूमेन लेयर देनी पड़ेगी

49 साल तक मेेंटनेंस नहीं हाेेन के कारण ओवरब्रिज पर लगा डिटूमेन लेयर लगभग घिस गया है। ओवरब्रिज के लांग लाइफ के लिए 20-25 एमएम लेयर बिछाने की जरूरत है।

खबरें और भी हैं...