पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • Billing Will Be Done On The Reading Of Water Meters In Homes, So Install Water Meters Within 6 Months; Otherwise Action Will Be Taken

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निगम की चेतावनी:घरों में वाटर मीटर की रीडिंग पर होगी बिलिंग, इसलिए 6 माह के अंदर लगा लें वाटर मीटर; नहीं तो होगी कार्रवाई

धनबाद2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अब घरों में लगाना होगा वाटर मीटर- प्लंबरों को सौंपी गई घरों में जाकर जांच करने की जिम्मेवारी
  • निगम ने चेतावनी देते हुए कहा है कि लाेगाें काे घराें में मीटर लगाने के लिए छह माह का समय दिया गया

नए वाटर कनेक्शन काे लेकर सरकार द्वारा जारी अधिसूचना काे अमल में लाने की कवायद नगर निगम ने शुरू कर दी है। अधिसूचना जारी हाेने के साथ ही निगम ने नया कनेक्शन शुल्क लागू कर दिया है, वहीं उपभाेक्ताओं के घराें में मीटर लगवाने का काम भी शुरू कर दिया है। घरों में मीटर लगाने का काम निगम ने प्लंबरों काे सौंपा है। प्लंबरों काे घर-घर जाकर मीटर लगवाने का निर्देश दिया गया है। प्लंबरों ने घराें में मीटर लगाने का काम भी शुरू कर दिया है। वाटर मीटर की व्यवस्था उपभाेक्ताओं काे खुद करनी है।

निगम ने चेतावनी देते हुए कहा है कि लाेगाें काे घराें में मीटर लगाने के लिए छह माह का समय दिया गया है। छह माह बाद निगम जांच अभियान शुरू करेगा। अभियान के दौरान अगर घर में वाटर मीटर लगा नहीं मिला तो कार्रवाई की जाएगी। निगम के इस कदम से बिना मीटर लगाए पानी ले रहे लोगों में हड़कंप है। मीटर की जांच के लिए प्लंबर घर-घर पहुंचने लगे हैं।

पहले चरण में वार्ड 19 से 33 तक के उपभोक्ताओं के घरों में लगेंगे मीटर

वाटर मीटर लगाने का काम पहले धनबाद अंचल के 15 वार्डाें में शुरू किया गया है। पहले चरण में वार्ड 19 से वार्ड 33 तक के उपभाेक्ताओं के घराें में मीटर लगाया जाएगा। निगम ने इन वार्डाें काे दाे जाेन में बांट दिया है। जाेन के हिसाब से प्लंबरों काे जिम्मेवारी दी गई है। निगम के सबसे अधिक उपभाेक्ता इन्हीं 15 वार्डाें में हैं। निगम काे वाटर यूजर चार्ज के रूप में सबसे अधिक राशि भी इन्हीं 15 वार्डाें से ही मिलती है। निगम के कर्मियाें की माने ताे कुल उपभाेक्ताओं की संख्या करीब 27 हजार है। इनमें से 24 हजार उपभाेक्ता धनबाद अंचल के है, जबकि शेष उपभाेक्ता सिंदरी, छाताटांड़ और कतरास अंचल के हैं।

लोगों ने मीटर खरीदे, पर लगाए नहीं

नगर निगम में वाटर कनेक्शन के साथ मीटर व्यवस्था पहले से ही लागू है। यह अलग बात है की निगम ने इस पर कभी ध्यान नहीं दिया। पूर्व नगर आयुक्त अवधेश कुमार पांडेय के समय ही यह व्यवस्था लागू की गई थी। आवेदन पत्र के साथ बैंक में जमा कनेक्शन शुल्क का स्लिप और मीटर का कैश मेमाे जमा करना अनिवार्य था। कनेक्शन के साथ घर में मीटर लगा या नहीं यह देखने वाला भी काेई नहीं था। 12 से 14 हजार ऐसे उपभाेक्ता है, जाे कनेक्शन के समय मीटर ताे खरीदे, लेकिन उसे लगाया नहीं। इस बात काे कार्यपालक पदाधिकारी माे अनीस भी स्वीकार करते हैं।

क्या हाेगा वाटर मीटर का फायदा...

  1. मीटर रीडिंग के अनुसार होगी पानी की बिलिंग
  2. मीटर लगने से पानी की बर्बादी पर लगेगी राेक।
  3. माेटर लगाकर पानी लेने से करेंगे परहेज।
  4. माेटर का प्रयाेग करने पर अधिक बिल देना हाेगा।

घराें में मीटर लगाया जा रहा है- नोडल पदाधिकारी

सरकार के अधिसूचना के अनुसार घराें में मीटर लगवाने का काम शुरू हाे गया है। यह काम प्लंबरों काे दिया गया है। मीटर रीडिंग की व्यवस्था भी की जा रही है। फिलहाल पेयजल एवं स्वच्छता विभाग से सहयाेग लिया जाएगा। मीटर लगने से पानी की बर्बादी पर भी राेक लगेगी।

- माे अनीस, नाेडल पदाधिकारी, जलापूर्ति, नगर निगम

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser