व्यवसायियाें से सीधा संवाद:मोबाइल बजते ही डर जाते हैं व्यवसायी : चैंबर धमकी छुपाएंगे तो कैसे कार्रवाई करें: एसएसपी

धनबाद10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • व्यवसायी-पुलिस की संयुक्त बैठक में छाए धमकी भरे कॉल समेत सुरक्षा के मुद्दे

शहर के व्यवसायियों के साथ एसएसपी संजीव कुमार का गुरुवार को इंडस्ट्रीज एंड काॅमर्स एसाेसिएशन सभागार में व्यवसायियाें से सीधा संवाद हुआ। इस दौरान व्यवसायियों ने धमकियों, सुरक्षा, अपराध और नई ट्रैफिक व्यवस्था से हो रही परेशानी से अवगत कराया। जिला चैंबर अध्यक्ष चेतन गाेयनका ने एसएसपी को व्यापारियों की पीड़ा बताई-‘आए दिन व्यापारियों को फोन पर धमकियां मिल रही हैं।

जब फोन की घंटी बजती है तो उनकी धड़कनें बढ़ जाती हैं। मोबाइल के स्क्रीन पर अनजान नंबर देखकर रिसीव करने की हिम्मत नहीं होती। न व्यापारी घर से दुकान आते समय अपने आप को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं, न दुकान में सुरक्षित हैं और न दुकान से घर जाते समय निश्चिंत रह पाते हैं। हमेशा एक डर बना रहता है। इस डर से मुक्त कराना पुलिस-प्रशासन की जिम्मेवारी है।’ इस पर एसएसपी ने सुरक्षा पर ठोस भरोसा दिया।

दिन में कारोबार, रात में माल अनलोड...24 घंटे काम करें?
जिला चैंबर के संरक्षक राजेश गुप्ता व बैंक माेड़ चैंबर के सचिव प्रमाेद गाेयल ने मालवाहक के प्रवेश पर राेक से हाे रही परेशानी का मुद्दा उठाया। कहा कि प्रशासन के निर्णय के अनुसार रात 11 बजे से सुबह आठ बजे तक मालवाहक के प्रवेश की अनुमति है। एक व्यवसायी पूरे दिन दुकान संभालता है, लेकिन रात में माल लोड-अनलोड के लिए जागने को विवश हैं।

बाजार समिति हुई असुरक्षित

बाजार समिति के काराेबारी विनाेद गुप्ता ने कहा कि अपराधियाें में पुलिस का खाैफ कम हुआ है। थाेक मंडी में कुछ दिन पहले लाखाें का माल चाेरी हाेने की घटना इसका प्रमाण है। घटना के बाद मंडी से सटे बरवाअड्डा थाना काे सूचना देने पर संसाधन व मैनपावर कम हाेने का हवाला देते हुए घंटाें टाला जाता रहा। बिरसा मुंडा स्टेडियम में असामाजिक लाेगाें का जमावड़ा रहता है।

कई व्यापारी अब भी धमकी मिलने की नहीं दे रहे सूचना

एसएसपी ने कहा कि पुलिस सुपरमैन नहीं है जाे उड़कर आए और अपराधियाें काे पकड़ लें। काफी काराेबारियाें काे रंगदारी के लिए धमकी भरा फाेन आने की सूचना है लेकिन पुलिस तक शिकायत कुछ लाेगाें ने ही की। पुलिस काे शीघ्र सूचनाएं दें ताकि अपराधियाें पर शुरू में ही लगाम लगाई जा सके।

ट्रैफिक जाम की समस्या की जड़ ऑटो, जल्द निदान
एसएसपी ने शहर में मालवाहक के प्रवेश पर राेक से हाेने वाली परेशानी पर कहा कि बेहतरी के लिए लिए जाने वाले निर्णय से कुछ परेशानी भी हाेती है लेकिन इसे जल्द दूर किया जाएगा। जाम के लिए ऑटाे काफी हद तक जिम्मेवार हैं। जल्द ठहराव निर्धारित होगा।

खबरें और भी हैं...