पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कृषि प्रदर्शनी:धनबाद में चैंबर ऑफ फार्मर्स का किया जाएगा गठन बरवाअड्डा में बनेगा कोल्ड स्टोरेज: बादल पत्रलेख

धनबाद10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला परिषद मैदान में लग कृषि प्रदर्शनी सह किसान संगोष्ठी में शामिल कृषि मंत्री व अन्य। - Dainik Bhaskar
जिला परिषद मैदान में लग कृषि प्रदर्शनी सह किसान संगोष्ठी में शामिल कृषि मंत्री व अन्य।
  • जिला परिषद मैदान में कृषि प्रदर्शनी सह किसान गाेष्ठी का कृषि मंत्री ने किया उद्‌घााटन
  • लगाए गए कृषि संबंधी कई स्टॉल

जिला परिषद मैदान में मंगलवार काे कृषि प्रदर्शनी सह किसान गोष्ठी का आयाेजन किया गया। मुख्य अतिथि कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग के मंत्री बादल पत्रलेख ने इसका उद्‌घाटन किया। इस माैके पर उन्हाेंने धनबाद में चैंबर ऑफ फार्मर्स का गठन करने और बरवाअड्डा में कोल्ड स्टोर बनाने की घाेषणा की।

उन्होंने कहा कि इन दाेनाें याेजनाओं से किसानाें काे काफी फायदा पहुंचेगा। साथ ही, किसानों की उन्नति के लिए राज्य में फसल बीमा योजना शुरू करने का भी वादा किया। कहा कि इसका लाभ राज्यभर के लाखाें किसानाें काे मिलेगा। 355 करोड़ रुपए की पशुधन योजना शुरू कर 9250 लाभुकों को दो-दाे गाएं देने की भी बात कही।

कृषि मंत्री ने कहा कि अगले 4 वर्षाें में राज्य में 24 लाख प्रगतिशील किसान बनाए जाएंगे। इसके लिए कृषि नीति बनेगी और कृषि कैलेंडर बनाया जाएगा। नवंबर में धान की खरीद होगी। अगला एक दशक कृषकों के लिए उन्नति भरा रहेगा। उन्हाेंने दाेहराया कि किसानों को ऋण से मुक्ति दिलाने के लिए झारखंड कृषि ऋण माफी योजना शुरू की गई है।

धनबाद जिले के 21068 समेत राज्यभर के 9 लाख से अधिक किसानाें को इसका लाभ मिलेगा। किसान गाेष्ठी में टुंडी के विधायक मथुरा प्रसाद महताे, झरिया की विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह, डीसी उमा शंकर सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी सुरेंद्र कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी असीम रंजन एक्का, जिला आपूर्ति पदाधिकारी भोगेंद्र ठाकुर, जिला मत्स्य पदाधिकारी मुजाहिद अंसारी, निर्मल पांडेय आदि भी माैजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें