पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सिसक रही हैं गलियां:धनबाद के सीने पर 3 दिनों में कोरोना ने दिया 37 मौतों का जख्म

धनबाद11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना ने जिन मोहल्लों में छीनी जिंदगियां, अब वहां पसरा है मातमी खौफ
  • लोगों ने घरों से निकलना छोड़ा, दूसरों को भी कोरोना की चेन तोड़ने के लिए घरों में रहने की दे रहे सलाह

कोरोना संक्रमण से अब तक धनबाद जिले में अब तक ...मौतें हो चुकी हैं। जहां पहली लहर में 116 लोगों की जानें गईं, दूसरी लहर में तो कोरोना भयावह मुद्रा में हैं। दूसरी लहर में अब तक कोरोना के कारण ... जिंदगी खत्म हो चुकी हैं। शहर का शायद ही कोई ऐसा इलाका है, जहां कोरोना ने किसी की जिंदगी नहीं छीनी होगी।

जिन मोहल्लों में कोरोना ने लोगों की जानें लीं, वहां का माहौल पूरी तरह बदला हुआ है। लोग खौफजदा हैं और घरों से निकलना छोड़ चुके हैं। वहीं उन मोहल्लों में कोई बेवजह घूमता दिखता भी है तो मोहल्ले के लोग ही टोक देते हैं। लोगों का कहना है कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए कुछ दिन घरों में ही रहना मुनासिब है।

हीरापुर अजंतापाड़ा- महिला की मौत के बाद घर में मातम, मोहल्ले में दिनभर पसरा रहता है सन्नाटा

हीरापुर अजंतापाड़ा में रहने वाले मिठाई कारोबारी की एक रिश्तेदार की काेराेना संक्रमण से माैत के बाद से पूरे मोहल्ले में सन्नाटे ने जगह बना ली है। मृतका के घर में मातम है तो मोहल्ले के लाेग घराें में कैद हैं। माेहल्ले के लाेगाें की जिंदगी अब घराें में कैद हाे गई हैं।

हाउसिंग कॉलोनी- चंद घंटे में ही कोविड से दंपती की मौत के बाद घरों से निकलने से कर रहे परहेज

बरटांड़ हाउसिंग कॉलाेनी का जनता फ्लैट नंबर 113...। दरवाजे पर ताला। गली व माेहल्ले में सन्नाटा। इस फ्लैट में रहने वाली मीना देवी ने 26 अप्रैल की सुबह 3 बजे व शाम 4 बजे पति निर्मल वर्मा की मौत हो गई। इसके बाद से वहां से लोग घरों से निकलने से परहेज कर रहे हैं।

धनसार- डॉक्टर की मौत के बाद जागे मोहल्ले के लोग, अब बेवजह घूमने वालों को टोका जा रहा है

धनसार नई दिल्ली काॅलाेनी में भी सन्नाटा पसरा हुआ है। काॅलाेनी में ही रहने वाले हाेमियाेपैथिक चिकित्सक डाॅ नरेश कुमार का रविवार काे काेराेना से निधन हाे गया। इसके बाद लोग जागे। कॉलोनी को सेनिटाइज कराया। बेवजह घूमने वालोगों को टोकना शुरू कर दिया है।

निरसा देविनाया- खिड़कियों से संक्रमित ईसीएल कर्मी के शव को निहारते रहे मोहल्ले के लोग

निरसा के देवीयाना निवासी ईसीएलकर्मी 42 वर्षीय धनंजय कर की मौत के बाद गांव में सन्नाटा छाया रहा। धनंजय कोरोना संक्रमित थे। मौत के बाद सोमवार शव लेकर एंबुलेंस जैसी ही गांव में घुसी, लोग विचलित हो गए। सभी अपने घरों की खिड़कियों से ही शव को निहारा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें