पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एसएनएमएमसीएच:3 बजे शुरू होती है शाम की ओपीडी, 4 बजे तक डॉक्टर नहीं...एक-दाे विभागाें में मिले जूनियर डाॅक्टर, कई विभागों के दरवाजे तक नहीं खुले थे

धनबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एसएनएमएमसीएच में शाम की ओपीडी सेवा अघाेषित रूप से बंद है। अस्पताल में शाम के ओपीडी का समय 3 से 5 बजे तक निर्धारित है। लेकिन, काेराेनाकाल में डाॅक्टराें का ओपीडी पहुंचने का काेई टाइम टेबल नहीं है। ओपीडी खुलता ताे है, लेकिन कुछ जूनियर डाॅक्टर ही पहुंचते हैं। बुधवार काे दैनिक भास्कर ने शाम के ओपीडी का जायता लिया। प्राय: सभी विभागाें के बाहर मरीज ताे मिले, लेकिन शाम चार बजे तक डाॅक्टराें का चेंबर खाली था।

अधीक्षक अरुण चौधरी ने बताया कि ओपीडी में डाॅक्टराें का नहीं रहना गंभीर है। मरीज रहे या नहीं, लेकिन चिकित्सकाें काे ओपीडी में उपलब्ध रहना है। अपने स्तर से इसकी जांच कर सभी विभाग के एचओडी काे निर्देश जारी करेंगे।

टूटा हाथ लेकर आया है मरीज, नहीं पहुंचे डॉक्टर

हड्डी राेग विभाग का ओपीडी 3 बजे खुल गया, लेकिन यहां 3:30 तक एक भी डाॅक्टर नहीं पहुंचे। जबकि ओपीडी के बाहर 8-10 की संख्या में मरीज माैजूद थे। 70 वर्षीय जमशेद महताे का हाथ टूट गया है। वह कहती हैं कि सुबह के ओपीडी में डाॅक्टराें ने देखा और एक्स-रे कराने के लिए कहा। एक्स-रे कराने के बाद डाॅक्टर काे फाेटाे दिखाने के लिए बैठे हैं। डॉक्टर नहीं आए हैं।

डॉक्टर के आने का इंतजार करते रहे मरीज

मेडिसिन विभाग के ओपीडी में 3:40 बजे तक चिकित्सकाें की कुर्सियां खाली थी, जबकि बाहर दस से अधिक मरीज चिकित्सकाें के इंतजार में बैठे थे। मरीजाें ने बताया कि सुबह 9 बजे अस्पताल पहुंच गए थे, लेकिन काेविड जांच नहीं हाेने के कारण सुबह डाॅक्टराें ने नहीं देखा। कोरोना जांच की रिपोर्ट आने के बाद इलाज के लिए आए है, अभी तक डाॅक्टर नहीं आए हैं।

दरवाजा तक नहीं खुला, मरीज निराश होकर लौटे

3:45 बजे तक मनाेराेग विभाग के ओपीडी का दरवाजा नहीं खुला था। विभाग के बाहर बरवाअड्डा के रहने वाले अजीत पत्नी ललिता के साथ डाॅक्टर के आने के इंतजार में बैठे हैं। बताया कि पत्नी के सिर में हमेशा दर्द रहता है। डाॅक्टर कब आएंगे, पूछने पर कर्मचारी बताते हैं कि अभी आ जाएंगे। तीन बजे से यह सुन रहे हैं, लेकिन अबतक डाॅकटर नहीं आए।

पूछा डॉक्टर कब आएंगे तो कर्मी भी चला गया

यहां डाॅक्टराें का चेंबर खुला है, लेकिन डॉक्टरों की कुर्सियां खाली है। बाहर कई मरीज डाॅक्टर के इंतजार में बैठे हैं। कुसुंडा से इलाज के लिए आए ब्रज माेहन दूबे ने बताया कि डाॅक्टर के आने काे काेई टाइम-टेबल नहीं है। डॉक्टर कब आएंगे... यह पूछा तो ओपीडी का कर्मचारी भी कहीं चला गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें