पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

होली की रात खाक हुई रोजी-रोटी:स्टीलगेट सब्जी मंडी में आग, 42 दुकानें जलकर खाक

धनबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंडी में शराबखोरी के दाैरान फेंकी गई सिगरेट से भभकी आग, गैस रीफिलिंग दुकानों में रखे 9 सिलेंडर फटे
  • 6 घंटे तक धू-धूकर जलती रही मंडी, 30 लाख का नुकसान

स्टीलगेट सब्जी मंडी में हाेली की शाम अगलगी में 42 दुकानें जलकर कर खाक हाे गईं। घटना में 30 लाख से अधिक की क्षति पहुंची। मंडी में लगभग 250 दुकानें हैं। जब तक दमकल की गाड़ियां आग पर काबू पा पातीं, 42 दुकानें पूरी तरह जल चुकी थीं। आग शाम 7 बजे को लगी। लपटें देख लोगों ने फायर ब्रिगेड को फोन कर दिया। रात 8 बजे एक दमकल पहुंचा। उस समय तक मंडी में एलपीजी गैस की रीफिलिंग की दो दुकानों में मौजूद 9 सिलेंडर में ब्लास्ट हो चुका था और इस कारण आगे तेजी से फैलने लगी थी। उसके बाद चार अन्य दमकल भी बुलाए गए।

दमकलकर्मियों ने सबसे पहले शेष बचे गैस सिलेंडरों को अलग कर आग को आगे बढ़ने से रोका और फिर रात 1 बजे तक आग पर काबू पा लिया। जो दुकानें खाक हुईं, वे सब्जी, राशन, टेलरिंग, जेनरल स्टोर, होटल व गैस रीफिलिंग और फर्नीचर की थीं‌। अधिकतर झोपड़ीनुमा थीं, जबकि कुछ पक्की थीं। स्थानीय लोगों के मुताबिक, मंडी में एक होटल में कुछ लोग शराब पी रहे थे। संभवत: वहीं किसी ने जलती सिगरेट फेंकी और किसी झोपड़ीनुमा दुकान में उससे आग लगी। होली के कारण मंडी बंद थी। इसलिए आग को फैलने का मौका मिला और फिर चपेट में गैस रीफिलिंग दुकानें आ जाने से भयावह मंजर पैदा हो गया।

आग की खबर पर भाग कर पहुंचे दुकानदार, दुकान जलती देख रो पड़े

हाेली के दिन सभी दुकानदार परिजनों के साथ घरों पर थे। आग लगने की सूचना पर वे भागे-भागे पहुंचे। दुकानाें में लगी अाग काे देख वे राेने लगे। दुकानों में रखा हरी सब्जी, आलू, प्याज समेत राशन व फर्नीचर आदि सभी जल गए। जली दुकानों के मलबे में लाेग अपने रखे पैसे खाेज रहे थे। दुकानदाराें का कहना है कि दुकान में कुछ नाेट रखे थे, वे भी जल गए। सिक्के जलकर काले पड़ गए। कुछ भी नहीं बचा।

मलबे में मिली देसी पिस्टल, छानबीन में जुटी पुलिस, 21 सिलेंडर भी हुए जब्त

पुलिस ने घटनास्थल से 21 सिलेंडर जब्त किया। इनके अलावा कई सिलेंडर ब्लास्ट के बाद यत्र-तत्र बिखर गए थे। वहीं मलबे की जांच के दौरान पुलिस को एक देसी पिस्टल भी मिली। पिस्टल आग में जल चुकी थी। पिस्टल किस दुकान में रखी थी, इसकी छानबीन की जा रही है।

विधायक ने पुलिस के लिए अभद्र शब्द कहा, फिर बोले-यह बोलचाल की भाषा

अगलगी की सूचना पर मंगलवार को भाजपा विधायक राज सिन्हा घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने दुकानदारों को उचित मुआवजे की मांग की। इस दौरान विधायक ने कहा-छह बार फोन करने पर भी सीओ ने फोन नहीं उठाया। डीसी ने भी फोन का रिस्पांस नहीं दिया। उन्होंने पुलिस के प्रति अभद्र शब्द का प्रयोग करते हुए कहा कि दुकानों में अवैध शराब बिकती है, गैस रीफिलिंग होती है, पर कार्रवाई नहीं होती। आग लगने की वजहें भी यही हैं। बाद में बयान वायरल होने पर विधायक ने कहा-उन्होंने किसी को अपशब्द नहीं कहा। बोलचाल की भाषा में मुंह से निकल गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें