हाेम आइसाेलेशन के लिए उम्र सीमा काेई बाध्यता नहीं:50 वर्ष से अधिक उम्र के संक्रमित भी ले सकते हैं हाेम आइसाेलेशन की सुविधा

धनबाद11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीसी ने कहा : काेविड के लक्षण नहीं हाेने चाहिए, डाॅक्टर से फिटनेस सर्टिफिकेट जरूरी

जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार के अध्यक्ष सह डीसी संदीप सिंह ने शुक्रवार काे ऑनलाइन प्रेस वार्ता में बताया कि राज्य सरकार की नई गाइडलाइन के तहत हाेम आइसाेलेशन के लिए उम्र सीमा काेई बाध्यता नहीं रह गई है। 50 वर्ष से अधिक उम्रवाले व्यक्ति काे भी हाेम आइसाेलेशन की सुविधा दी जा सकती है, बस उस व्यक्ति में काेराेना संक्रमण का काेई लक्षण नहीं हो। वे हर तरह से फिट हों और डाॅक्टर प्रमाणित करें कि वे हाेम आइसाेलेशन में रहकर इलाज करवा सकते हैं।

फिलहाल 97 लोग होम आइसोलेशन में हैं। होम आइसोलेशन की सभी शर्तों का पालन करना अनिवार्य है। दिन में तीन बार वीडियो कॉल करके स्वास्थ्य के संबंध में चिकित्सक जानकारी प्राप्त करेंगे। उन्हाेंने कहा कि काेराेना काे लेकर डरने की जरूरत नहीं है। घर में रहें सुरक्षित रहें। अनावश्यक बाहर नहीं निकलें। जरूरत पड़ने पर भी मास्क लगाकर ही बाहर निकलें। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार के निर्देंश के तहत आवश्यक सामग्रियाें की दुकानाें काे छाेड़कर अन्य दुकानें रात 8 बजे के बाद नहीं खुलेंगी। उक्त निर्देश का पालन नहीं करने पर आपदा प्रबंधन की सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

काेविड मरीजाें के इलाज के लिए जिले में पर्याप्त संख्या में उपलब्ध हैं बेड

डीसी ने कहा कि काेविड मरीजाें के लिए जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार ने सारी तैयारियां पूरी कर ली है। धनबाद परिसदन में काेविड वार रुम काम करना शुरू कर दिया है। शुक्रवार से टेली मेडिसीन सेवा शुरू कर दी गई है। काेविड मरीजाें के इलाज के लिए सरकारी, सार्वजनिक व प्राइवेट हाॅस्पीटल मिलाकर पर्याप्त संख्या में बेड में हैं। जिले में 3 डेडीकेटेड कोविड होस्पिटल तथा 6 कोविड हेल्थ सेंटर आईएमए की समीक्षा के बाद बेहतर चिकित्सा प्रदान करने के लिए तैयार है। सरकारी व सार्वजनिक 9 अस्पतालों काे मिलाकर 880 बेड ओटू सपाेर्टेड तथा स्टैंड बाइज 311 ओटू सपोर्टेड बेड हैं। जबकि 104 आईसीयू बेड, 45 वेंटीलेटर उपलब्ध है। इसके अलावे प्राइवेट अस्पतालाें काे भी अलर्ट माेड में रहने का निर्देश दिया गया है।

चेकपाेस्ट और धनबाद रेलवे स्टेशन पर कड़ाई से हाेगी जांच
डीसी ने कहा कि काेविड जांच का दायरा बढ़ाया गया है। हर दिन औसतन 5 हजार लाेगाें की काेविड जांच की जा रही है। काेविड से बचाव और नियंत्रण काे लेकर पड़ाेसी राज्य के सीमावर्ती चेकपाेस्ट व धनबाद रेलवे स्टेशन पर कड़ाई से काेविड जांच का निर्देश दिया गया है। मास्क चेकिंग अभियान काे तेज किया जाएगा। मास्क नहीं पहननेवालाें के विरुद्ध सख्त कार्रवाई का निर्देश है। शहर और आसपास के सब्जी मंडियाें में साेशल डिस्टेंस् काे लेकर 50 प्रतिशत दुकानाें काे अन्य जगहाें पर शिफ्टि की जाएगी। इसकाे लेकर एसडीएम व संबंधित क्षेत्र के इंसीडेंट कमांडर काे निर्देश दिया गया है।

आवश्यक जानकारी

  • अब तक वैक्सीन के 23.20 लाख डाेज दिए जा चुके हैं
  • इसमें 14.4 लाख काे पहला और 8.8 लाख को दाेनाें डोज
  • 15 से 18 वर्ष के 4544 युवाओं को वैक्सीन का पहला डाेज
  • बीसीसीएल के क्षेत्रीय अस्पताल, ईसीएल, टाटा जामाडोबा, डीवीसी अस्पताल में भी वैक्सीनेशन कैंप

यह भी कहा

  • अभी 9 अस्पतालाें में 880 बेड और स्टैंड बाई पर 311 ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड, 104 आईसीयू बेड, 45 वेंटीलेटर उपलब्ध
  • अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें​​​​​​​
खबरें और भी हैं...