पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौत व मरीजों का ब्यौरा:कैथलैब में कोविड से हुई ज्यादा मौतों की जांच शुरू, टीम ने मृतकों का ब्यौरा लिया

धनबाद19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राज्य सरकार की विशेष टीम जांच करने एसएनएमएमसीएच पहुंची - Dainik Bhaskar
राज्य सरकार की विशेष टीम जांच करने एसएनएमएमसीएच पहुंची
  • टीम ने अस्पताल में संक्रमण की दूसरी लहर में हुई मरीजों की मौत व मरीजों का ब्यौरा लिया

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में अधिक संख्या में मौतें क्यों हुईं और कहां कमी हुई, इसका पता लगाने के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर कोविड अस्पतालों में शनिवार से डेथ ऑडिट शुरू हुआ। धनबाद में डेथ ऑडिट एसएनएमएमसीएच कैथलैब में बने डेडिकेटेड कोविड अस्पताल से आरंभ हुआ। राज्य सरकार की ओर से गठित विशेष टीम कैथलैब डेडिकेटेड कोविड अस्पताल पहुंची और चिह्नित बिंदुओं पर छानबीन शुरू की।

टीम ने अस्पताल में संक्रमण की दूसरी लहर में हुई मरीजों की मौत व मरीजों का ब्यौरा लिया। टीम उन लोगों से भी मिलेगी, जिनके परिजनों की अस्पताल में कोविड से मौत हुई। ऑडिट टीम लगभग चार घंटे तक अस्पताल में रही। इस दौरान जिन मरीजों की मौत हुई, उनसे जुड़े रिकॉर्ड, इलाज से जुड़े कागजात समेत अन्य विवरण लिया। बता दें कि दूसरी लहर में ज्यादा मौतों पर राज्य सरकार ने रांची के रिम्स, जमशेदपुर के एमजीएम, धनबाद के एसएनएमएमसीएच समेत हजारीबाग व बोकारो के दो अस्पतालों में डेथ ऑडिट शुरू किया है।

जानना चाहा-बेड की कमी से कितनी मौतें

  • मरीजों से संबंधित रिकॉर्ड मेंटेन हुआ या नहीं।
  • मरीजों के ट्रांसपोर्टेशन में परेशानी हुई या नहीं।
  • गंभीर मरीज को समय पर रेफर किया गया या नहीं।
  • बेड की कमी के कारण तो मौतें नहीं हुईं।
  • मरने वालों की पहले से कोई बीमारी थी या नहीं।
  • काफी संख्या में युवाओं की मौत हुई, इसका क्या कारण है।
खबरें और भी हैं...