न्यायिक पदाधिकारियों ने निकाली प्रभात फेरी:अपने कर्तव्यों के प्रति जागरूक होना जरूरी है: निताश बारला

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रभात फेरी में शामिल न्यायिक पदाधिकारी, अधिवक्ता एवं पैनल लॉयर। - Dainik Bhaskar
प्रभात फेरी में शामिल न्यायिक पदाधिकारी, अधिवक्ता एवं पैनल लॉयर।

नागरिकों को अपने मौलिक अधिकार व कर्तव्यों के प्रति जागरूक होना जरूरी है। संविधान में वर्णित संदेशों पर अमल करने के लिए हर एक व्यक्ति को जागरूक होना होगा। उक्त बातें जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सह अवर न्यायाधीश निताशा बारला ने कहीं। वे रविवार काे जिला विधिक सेवा प्राधिकार धनबाद की ओर से निकाली गई प्रभात फेरी कार्यक्रम के दाैरान लाेगाें काे संबोधित कर रहीं थीं।

उन्होंने संविधान की प्रस्तावना एवं संविधान के उद्देश्यों पर भी चर्चा की। संविधान की प्रदत्त समानता के अधिकार पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला। बताया कि झारखंड विधिक सेवा प्राधिकार के निर्देश पर सात दिवसीय जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया है।

जिसकी शुरुआत प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकार धनबाद राम शर्मा के निर्देश पर प्रभात फेरी निकालकर की गई। न्यायाधीश बारला ने बताया कि डालसा की टीम की ओर से स्कूली छात्र-छात्राओं एवं दूर-सुदूर ग्रामीण इलाकों में रहने वाले आम जनमानस तक संविधान में वर्णित मौलिक अधिकार एवं मौलिक कर्तव्य के बारे में जागरूक किया जाएगा। प्रभात फेरी व्यवहार न्यायालय परिसर से निकलकर रणधीर वर्मा चौक तक पहुंची।

खबरें और भी हैं...