फीस कमेटी का गठन:फीस बढ़ाेतरी सहित अन्य शिकायताें पर निजी स्कूलों के प्रिंसिपलाें की बैठक आज

धनबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 34 स्कूलाें ने नहीं दिया फीस का ब्याेरा

नियमाें का उल्लंघन कर फीस वसूली, स्कूल स्तरीय फीस कमेटी का गठन सहित विभिन्न मुद्दाें पर साेमवार काे दिल्ली पब्लिक स्कूल में बैठक हाेगी। बैठक सुबह 11:30 बजे से डीईओ प्रबला खेस की अध्यक्षता में हाेगी। इसकाे लेकर डीएसई इंद्रभूषण सिंह ने सभी गैर सहायता प्राप्त निजी स्कूल प्राचार्याें काे पत्र लिखा है। कहा है कि बैठक में नेशनल एचीवमेंट सर्वे परीक्षा पर भी चर्चा की जाएगी।

हालांकि इस बैठक का अभिभावक संगठनाें ने पुरजाेर विराेध किया है। इधर, डीईओ ने बताया कि काेविड-19 से अनाथ हुए बच्चाें से फीस वसूली पर भी चर्चा की जाएगी। जिन बच्चाें के माता-पिता या दाेनाें में एक का काेराेना से निधन हाे गया, उनसे किसी तरह की फीस नहीं ली जानी है। अभिभावकाें से शिकायत मिले ताे संबंधित स्कूल से जवाब मांगते हुए कार्रवाई की जा सकती है।

डीईओ के रिमाइंडर का भी संबंधित स्कूलाें पर काेई असर नहीं पड़ा

जिले के सीबीएसई व आईसीएसई से संबद्ध 34 निजी स्कूलाें ने फीस का ब्याेरा डीईओ कार्यालय काे नहीं दिया है। वहीं तीन स्कूलाें ने यह कहते हुए पल्ला झाड़ लिया है कि वे स्कूल स्तरीय फीस कमेटी के निर्णय के अनुसार ही फीस ले रहे हैं। डीईओ के रिमाइंडर का भी संबंधित स्कूलाें पर काेई असर नहीं हुआ। आईसीएसई के किसी स्कूल ने काेई रिपाेर्ट कार्यालय काे नहीं दी है। दरअसल डीईओ ने स्कूलां काे वर्ष 2020-21 में ली गई फीस और वर्ष 2021-22 में ली जा रही फीस का तुलनात्मक चार्ट मांगा था। लेकिन, जिले के आधे से अधिक स्कूलाें ने इसका काेई जवाब देना भी जरूरी नहीं समझा।

अभिभावक संगठनों ने प्रिसिंपलों की बैठक का किया विराेध
इधर, झारखंड अभिभावक संघ व झारखंड अभिभावक महासंघ ने निजी स्कूल प्रिंसिपलाें की साेमवार काे हाेने वाली बैठक का विराेध जताया है। संगठनाें के सदस्याें ने कहा कि बैठक किसी सरकारी स्थान पर नहीं कर जानबूझ कर निजी स्कूल कैंपस में कराई जाती है। जहां अभिभावकाें की शिकायत पर चर्चा हाेनी है, उससे अभिभावकाें काे ही दूर रखा गया है। अभिभावक संगठनाें काे बैठक में शामिल नहीं करना कई सवाल खड़े करते हैं। अभिभावकों को भी इस बैठक में शामिल किया जाना चाहिए। ताकि वे भी अपनी बातों को बैठक में रख सकें।

खबरें और भी हैं...